पबजी गेम के लिए लड़कों ने किया पोस्टर लगाकर सड़क पर कब्जा, कहा रिजर्व है ये जगह

pubg
पबजी गेम के लिए लड़कों ने किया पोस्टर लगाकर सड़क पर कब्जा, कहा रिजर्व है ये जगह

मुंबई। पबजी के शौकिनों की तादाद दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। जिसके लिए पबजी शौकीन किसी भी हद्द तक जाने को तैयार है। कभी पबजी शौकीन खेल के मामले में आत्महत्या कर रहें हैं, तो कभी घरों में चोरी कर रहें हैं। वहीं दूसरी तरफ मुंबई के बदलापुर शहर में कुछ लड़कों ने सड़क पर कब्जा कर पोस्टर लगा दिया कि यह जगह पबजी खेलने वालों के लिए रिजर्व है।

For The Game Of Pubg The Boys Took Posters By Putting Posters Said The Reserve Is This Place :

मुंबई के बदलापुर में रहने वाले इन लड़कों ने पबजी मोबाइल गेम खेलने को लेकर सड़क पर कब्जा कर लिया था। साथ ही एक पोस्टर टांग दिया था जिसपर लिखा था, ‘यह जगह सिर्फ पबजी खेलने वालों के लिए रिजर्व है। आज्ञा से- विजय भाऊ।’ इस पोस्टर के बाद एक स्थानीय निवासी ने थाने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टर हटा दिया और बच्चों को चेतावनी देकर छोड़ दिया है कि वे सड़क पर पबजी गेम ना खेलें।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि “बच्चे पास में ही रहते हैं। ऐसे में वे पेड़ के नीचे आकर गेम खेलते हैं और बच्चों ने मौज-मस्ती के लिए पोस्टर लगा दी होगी।” हालांकि पुलिस की चेतावनी के बाद से बच्चे उस जगह गेम खेलने नहीं आए हैं।

बताते चले कि पबजी गेम भारत के कुछ शहरों में प्रतिबंध लगाने की मांग जारी है, वहीं गुजरात में 30 मार्च
को गेम पर बैन लगाया गया था, जिसके बाद पबजी खेलने के आरोप में 10 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। गिरफ्तारी के चलते पबजी गेम की कंपनी टैंसेंट इंडिया ने अपने प्लेयर्स का सपोर्ट करते हुए कहा था कि वह जल्द ही गेम पर लगे बैन को हटाने की मांग करेगी।

मुंबई। पबजी के शौकिनों की तादाद दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। जिसके लिए पबजी शौकीन किसी भी हद्द तक जाने को तैयार है। कभी पबजी शौकीन खेल के मामले में आत्महत्या कर रहें हैं, तो कभी घरों में चोरी कर रहें हैं। वहीं दूसरी तरफ मुंबई के बदलापुर शहर में कुछ लड़कों ने सड़क पर कब्जा कर पोस्टर लगा दिया कि यह जगह पबजी खेलने वालों के लिए रिजर्व है।

मुंबई के बदलापुर में रहने वाले इन लड़कों ने पबजी मोबाइल गेम खेलने को लेकर सड़क पर कब्जा कर लिया था। साथ ही एक पोस्टर टांग दिया था जिसपर लिखा था, 'यह जगह सिर्फ पबजी खेलने वालों के लिए रिजर्व है। आज्ञा से- विजय भाऊ।' इस पोस्टर के बाद एक स्थानीय निवासी ने थाने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पोस्टर हटा दिया और बच्चों को चेतावनी देकर छोड़ दिया है कि वे सड़क पर पबजी गेम ना खेलें।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि "बच्चे पास में ही रहते हैं। ऐसे में वे पेड़ के नीचे आकर गेम खेलते हैं और बच्चों ने मौज-मस्ती के लिए पोस्टर लगा दी होगी।" हालांकि पुलिस की चेतावनी के बाद से बच्चे उस जगह गेम खेलने नहीं आए हैं।

बताते चले कि पबजी गेम भारत के कुछ शहरों में प्रतिबंध लगाने की मांग जारी है, वहीं गुजरात में 30 मार्च
को गेम पर बैन लगाया गया था, जिसके बाद पबजी खेलने के आरोप में 10 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी। गिरफ्तारी के चलते पबजी गेम की कंपनी टैंसेंट इंडिया ने अपने प्लेयर्स का सपोर्ट करते हुए कहा था कि वह जल्द ही गेम पर लगे बैन को हटाने की मांग करेगी।