‘महाभारत’ के ‘देवराज इंद्र’ वृद्धाश्रम में रहने को मजबूर, करोड़पति से हो गए कंगाल, दर्दनाक स्थिति

Satish-Kaul

साल 2019, जनवरी का महीना । एक्‍टर सतीश कौल की खबर ने सबको चौंका दिया था । एक जमाने का जबरदस्‍त एक्‍टर बेहद ही दयनीय हालत में दिन गुजार रहा था । सतीश कौल को पंजाबी फिल्मों का अमिताभ बच्चन तक कहा जाता है । किसी जमाने के करोड़पति रहे सतीश कौल की हालत तब बेहद दयनीय थी, उनकी खबर बाहर आई तो मदद को कुछ हाथ आगे बढ़ें । आज सतीश कौल एक वृद्धाश्रम में जीवन बिताने को मजबूर हैं । जानिए इस एक्‍टर के बारे में सब कुछ ।

Forced To Live In Devraj Indra Old Age Home Of Mahabharata A Millionaire Turned Pauper Painful Situation :

पंजाबी और हिंदी सिनेमा के इस तूफानी एक्‍टर ने बी.आर. चोपड़ा के हिट सीरियल ‘महाभारत’ में इंद्र देव का किरदार निभाया था । इस किरदार में वो क्‍या खूब जमे थे । इंद्र देव के किरदार में सतीश कौल को बेहद पसंद किया गया । सतीश कौल इस सीरियल से पहले से ही मशहूर अभिनेता के तौर पर काम कर रहे थे । लेकिन फिर 80 का काला दशक आया, आतंकवाद की छाया में सतीश कौल का करियर गर्त में चला गया । इसी वजह से उन्‍हें टीवी में काम करना पड़ा ।

65 साल के हो चुके सतीश कौल वर्तमान में लुधियाना के विवेकानंद वृद्धाश्रम में रह रहे हैं । उनके पास अपना कुछ नहीं बचा है । न तो खाने-पीने के पैसे हैं औ न ही दवाइयों का खर्च उठाने के। इंटरनेट पर मिली जानकारी के अनुसार उन्‍हें पंजाब सरकार द्वारा यहां पहुंचाया गया है, ताकि उनकी देखभाल हो सके । सतीश कौल की पिछले साल लुधियाना के एक हॉस्पिटल से तस्‍वीरें वायरल हुईं थीं, जिसमें उनकी दयनीय हालत दिख रही थी । वह अपने बिल तक भर पाने में असमर्थ थे। तब बताया गया कि साल 2015 में प्रकाश सिंह बादल ने पंजाबी यूनिवर्सिटी से उनके लिए 11 हजार रुपए की पेंशन शुरू करवाई थी, लेकिन किसी वजह से अब वो भी बंद हो चुकी है ।

सतीश कौल की पत्‍नी से नहीं बनी और उन्‍होने उनसे तलाक ले लिया, बीवी-बच्‍चे से अलग होने के बाद कौल अमेरिका चले गए । वहां सतीश ने एक्टिंग स्कूल खोला, लेकिन वो नहीं चला । वो फाइनेंशियली काफी कमजोर हो गए । खुद को सबसे अलग कर लिया । फिल्मी दुनिया से दूरी ने उन्‍हें उनके बाकी दोस्‍तों को भी अलग कर दिया । जुलाई, 2014 में सतीश का गिरने के कारण स्पाइनल फ्रैक्चर हो गया था, इसके बाद ही वो सुर्खियों में आए थे ।

सतीश कौल ने 1969 में पुणे, फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया से ग्रेजुएशन किया था । वो जया बच्चन, शत्रुघ्न सिन्हा, जरीना वहाब, डैनी डेन्जोंगपा और आशा सचदेव जैसे एक्‍टर्स के बैचमेट रहे हैं । कौल आखिरी बार 1998 में आई फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ में नजर आए थे । सतीश ने पंजाबी और बॉलीवुड की 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है । फिल्‍म कर्मा के लिए उन्‍हें आज भी याद किया जाता है ।

साल 2019, जनवरी का महीना । एक्‍टर सतीश कौल की खबर ने सबको चौंका दिया था । एक जमाने का जबरदस्‍त एक्‍टर बेहद ही दयनीय हालत में दिन गुजार रहा था । सतीश कौल को पंजाबी फिल्मों का अमिताभ बच्चन तक कहा जाता है । किसी जमाने के करोड़पति रहे सतीश कौल की हालत तब बेहद दयनीय थी, उनकी खबर बाहर आई तो मदद को कुछ हाथ आगे बढ़ें । आज सतीश कौल एक वृद्धाश्रम में जीवन बिताने को मजबूर हैं । जानिए इस एक्‍टर के बारे में सब कुछ । पंजाबी और हिंदी सिनेमा के इस तूफानी एक्‍टर ने बी.आर. चोपड़ा के हिट सीरियल ‘महाभारत’ में इंद्र देव का किरदार निभाया था । इस किरदार में वो क्‍या खूब जमे थे । इंद्र देव के किरदार में सतीश कौल को बेहद पसंद किया गया । सतीश कौल इस सीरियल से पहले से ही मशहूर अभिनेता के तौर पर काम कर रहे थे । लेकिन फिर 80 का काला दशक आया, आतंकवाद की छाया में सतीश कौल का करियर गर्त में चला गया । इसी वजह से उन्‍हें टीवी में काम करना पड़ा । 65 साल के हो चुके सतीश कौल वर्तमान में लुधियाना के विवेकानंद वृद्धाश्रम में रह रहे हैं । उनके पास अपना कुछ नहीं बचा है । न तो खाने-पीने के पैसे हैं औ न ही दवाइयों का खर्च उठाने के। इंटरनेट पर मिली जानकारी के अनुसार उन्‍हें पंजाब सरकार द्वारा यहां पहुंचाया गया है, ताकि उनकी देखभाल हो सके । सतीश कौल की पिछले साल लुधियाना के एक हॉस्पिटल से तस्‍वीरें वायरल हुईं थीं, जिसमें उनकी दयनीय हालत दिख रही थी । वह अपने बिल तक भर पाने में असमर्थ थे। तब बताया गया कि साल 2015 में प्रकाश सिंह बादल ने पंजाबी यूनिवर्सिटी से उनके लिए 11 हजार रुपए की पेंशन शुरू करवाई थी, लेकिन किसी वजह से अब वो भी बंद हो चुकी है । सतीश कौल की पत्‍नी से नहीं बनी और उन्‍होने उनसे तलाक ले लिया, बीवी-बच्‍चे से अलग होने के बाद कौल अमेरिका चले गए । वहां सतीश ने एक्टिंग स्कूल खोला, लेकिन वो नहीं चला । वो फाइनेंशियली काफी कमजोर हो गए । खुद को सबसे अलग कर लिया । फिल्मी दुनिया से दूरी ने उन्‍हें उनके बाकी दोस्‍तों को भी अलग कर दिया । जुलाई, 2014 में सतीश का गिरने के कारण स्पाइनल फ्रैक्चर हो गया था, इसके बाद ही वो सुर्खियों में आए थे । सतीश कौल ने 1969 में पुणे, फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया से ग्रेजुएशन किया था । वो जया बच्चन, शत्रुघ्न सिन्हा, जरीना वहाब, डैनी डेन्जोंगपा और आशा सचदेव जैसे एक्‍टर्स के बैचमेट रहे हैं । कौल आखिरी बार 1998 में आई फिल्म ‘प्यार तो होना ही था’ में नजर आए थे । सतीश ने पंजाबी और बॉलीवुड की 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया है । फिल्‍म कर्मा के लिए उन्‍हें आज भी याद किया जाता है ।