अलकायदा की धमकी पर विदेश का मंत्रालय का बयान, नहीं है गंभीरता से लेने की जरूरत

ravish kumar
अलकायदा की धमकी पर विदेश का मंत्रालय का बयान, नहीं है गंभीरता से लेने की जरूरत

नई दिल्ली। कुख्यात आतंकी संगठन अलकायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी ने भारत को एक धमकी भरा संदेश भेजा है। जिसके बाद भारत की तरफ से विदेश मंत्रालय ने इस धमकी को हल्के में लेते हुए कहा कि इस मामले को ज्यादा गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है।

Foreign Ministrys Statement On Al Qaedas Threat Not Necessarily To Take Seriously :

इस धमकी भरे संदेश के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि ऐसी धमकियां हम सुनते रहते हैं, मुझे नहीं लगता है इसे गंभीरता से लेना चाहिए। उन्होने कहा कि किसी भी स्थिती से निपटने के लिए हमारे सुरक्षाबल पूरी तरीके से तैयार हैं। यहीं नहीं अपने क्षेत्र की एकता और संप्रभुता को बहाल करने में भारतीय सेना पूरी तरह से सक्षम हैं।

बता दें कि अल जवाहिरी ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए भारत को धमकी दी थी। जारी किए गए इस वीडियो में उसने कहा था कि उसके लोग कश्मीर में भारतीय सेना को निशाना बनाते रहेंगे। अलकायदा ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें अलकायदा का चीफ आतंकी अयमान अल जवाहिरी भारत के खिलाफ जहर उगल रहा था। उसने अपने वीडियों संदेश में कश्मीरी आतंकवादियों का गुणगान किया।

नई दिल्ली। कुख्यात आतंकी संगठन अलकायदा प्रमुख अयमान अल-जवाहिरी ने भारत को एक धमकी भरा संदेश भेजा है। जिसके बाद भारत की तरफ से विदेश मंत्रालय ने इस धमकी को हल्के में लेते हुए कहा कि इस मामले को ज्यादा गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है। इस धमकी भरे संदेश के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि ऐसी धमकियां हम सुनते रहते हैं, मुझे नहीं लगता है इसे गंभीरता से लेना चाहिए। उन्होने कहा कि किसी भी स्थिती से निपटने के लिए हमारे सुरक्षाबल पूरी तरीके से तैयार हैं। यहीं नहीं अपने क्षेत्र की एकता और संप्रभुता को बहाल करने में भारतीय सेना पूरी तरह से सक्षम हैं। बता दें कि अल जवाहिरी ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए भारत को धमकी दी थी। जारी किए गए इस वीडियो में उसने कहा था कि उसके लोग कश्मीर में भारतीय सेना को निशाना बनाते रहेंगे। अलकायदा ने एक वीडियो जारी किया था जिसमें अलकायदा का चीफ आतंकी अयमान अल जवाहिरी भारत के खिलाफ जहर उगल रहा था। उसने अपने वीडियों संदेश में कश्मीरी आतंकवादियों का गुणगान किया।