नहीं रहे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज एच. डब्ल्यू. बुश

नहीं रहे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज एच. डब्ल्यू. बुश
नहीं रहे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज एच. डब्ल्यू. बुश

नई दिल्ली। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज एचडब्ल्यू बुश का शुक्रवार रात करीब 10 बजे निधन हो गया। वे 94 साल के थे। उनके परिवार ने शुक्रवार की देर रात इस बात की सूचना दी। निधन के समय तक सीनियर बुश अमेरिका के सबसे उम्रदराज जीवित पूर्व राष्ट्रपति थे। उनका जन्म 12 जून 1924 को मैसाचुसेट्स के मिल्टन में हुआ था। इसी साल 17 अप्रैल को उनकी पत्नी बारबरा बुश का 92 साल की उम्र में निधन हुआ था।

Former American President George Hw Bush Dies At The Age Of 94 :

1989 से 1993 तक रहे अमेरिका के राष्ट्रपति

जॉर्ज एच. डब्लू. बुश अमेरिका के 41वें राष्ट्रपति थे। वह 1989 से 1993 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे। उससे पहले वह 1981 से 1989 तक अमेरिका के उपराष्ट्रपति भी रहे। वह मौजूदा राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी के सदस्य थे। सियासत में आने से पहले वह अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA के प्रमुख और संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के राजदूत भी रह चुके थे।

जॉर्ज एच. डब्लू. बुश के आठ वर्ष बाद उनके बेटे जॉर्ज डब्ल्यू. बुश अमेरिका के 43वें राष्ट्रपति बने। 1991 के गल्फ वॉर में अमेरिकी को मिली सफलता के बाद सीनियर बुश की लोकप्रियता और बढ़ गई थी। रिपब्लिकन पार्टी से दूसरे कार्यकाल के लिए खड़े हुए सीनियर बुश को राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेट उम्मीदवार बिल क्लिंटन के सामने हार का सामना करना पड़ा था।

बुश दूसरे विश्वयुद्ध के हीरो रहे थे। इसके साथ ही, टेक्सास कांग्रेसमैन, सीआई डायरेक्टर और नोनाल्ड रेगन के वाइस प्रेसिडेंट भी रहे। इससे पहले, एक और अन्य ऐसे अमेरिकी राष्ट्रपति थे जॉन एडम्स जिनके बेटे भी वहां के राष्ट्रपति बने।

नई दिल्ली। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज एचडब्ल्यू बुश का शुक्रवार रात करीब 10 बजे निधन हो गया। वे 94 साल के थे। उनके परिवार ने शुक्रवार की देर रात इस बात की सूचना दी। निधन के समय तक सीनियर बुश अमेरिका के सबसे उम्रदराज जीवित पूर्व राष्ट्रपति थे। उनका जन्म 12 जून 1924 को मैसाचुसेट्स के मिल्टन में हुआ था। इसी साल 17 अप्रैल को उनकी पत्नी बारबरा बुश का 92 साल की उम्र में निधन हुआ था।

1989 से 1993 तक रहे अमेरिका के राष्ट्रपति

जॉर्ज एच. डब्लू. बुश अमेरिका के 41वें राष्ट्रपति थे। वह 1989 से 1993 तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे। उससे पहले वह 1981 से 1989 तक अमेरिका के उपराष्ट्रपति भी रहे। वह मौजूदा राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी के सदस्य थे। सियासत में आने से पहले वह अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA के प्रमुख और संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के राजदूत भी रह चुके थे।जॉर्ज एच. डब्लू. बुश के आठ वर्ष बाद उनके बेटे जॉर्ज डब्ल्यू. बुश अमेरिका के 43वें राष्ट्रपति बने। 1991 के गल्फ वॉर में अमेरिकी को मिली सफलता के बाद सीनियर बुश की लोकप्रियता और बढ़ गई थी। रिपब्लिकन पार्टी से दूसरे कार्यकाल के लिए खड़े हुए सीनियर बुश को राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेट उम्मीदवार बिल क्लिंटन के सामने हार का सामना करना पड़ा था।बुश दूसरे विश्वयुद्ध के हीरो रहे थे। इसके साथ ही, टेक्सास कांग्रेसमैन, सीआई डायरेक्टर और नोनाल्ड रेगन के वाइस प्रेसिडेंट भी रहे। इससे पहले, एक और अन्य ऐसे अमेरिकी राष्ट्रपति थे जॉन एडम्स जिनके बेटे भी वहां के राष्ट्रपति बने।