1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. सीबीआई के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा का कोरोना वायरस से निधन

सीबीआई के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा का कोरोना वायरस से निधन

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा का शुक्रवार सुबह निधन हो गया है। वह 68 वर्ष के थे।भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के 1974 बैच के बिहार कैडर के अधिकारी श्री सिन्हा दिसंबर 2012 से दिसंबर 2014 तक सीबीआई के निदेशक के पद पर रहे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली । केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा का शुक्रवार सुबह कोरोना वायरस से निधन हो गया है। सीबीआई के पूर्व निदेशक सिन्हा दुनिया को 68 वर्ष की आयु में अलविदा कह गए हैं।

पढ़ें :- प्रो. पीके मिश्रा का इस्तीफा, तो विनय पाठक पर गंभीर आरोपों के बाद राजभवन की 'मेहरबानी' का क्या है 'राज'?

भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के 1974 बैच के बिहार कैडर के अधिकारी श्री सिन्हा दिसंबर 2012 से दिसंबर 2014 तक सीबीआई के निदेशक के पद पर रहे। वह भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के महानिदेशक के पद पर भी रहे। उनके निधन के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है।

‘हमें आप पिंजरे का तोता कहते हैं, उसके बाद भी आप हमसे ही जवाब भी चाहते हैं’

यूपीए सरकार के दौरान सीबीआई संस्था पर कई आरोप लगे थे। उसी दौरान कोर्ट की सुनवाई के दौरान एक शब्द बेहद चर्चा का केंद्र बना था कि ‘सीबीआई पिंजरे का तोता है’। उस वक्त सीबीआई के निदेशक रंजीत सिन्हा थे, लेकिन कई बार जब पत्रकारों के सवाल पर हंसते हुए वह खुद ही कहते थे। ‘हमें आप पिंजरे का तोता कहते हैं, उसके बाद भी आप हमसे ही जवाब भी चाहते हैं। हाजिर जबाबी में भी रंजीत सिन्हा का कोई जवाब नहीं था।

पढ़ें :- Parliament Live : पीएम मोदी, बोले- '2004 से 14 तक घोटालों का दशक, UPA ने मौकों को मुसीबत में पलटा'
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...