1. हिन्दी समाचार
  2. पूर्व सीएम अजित जोगी और अमित जोगी पर FIR दर्ज, कर्मचारी की खुदकुशी के बाद लगा था यह आरोप

पूर्व सीएम अजित जोगी और अमित जोगी पर FIR दर्ज, कर्मचारी की खुदकुशी के बाद लगा था यह आरोप

Former Chhattisgarh Cm Ajit Jogi Lodged An Fir This Allegation Was Made After The Suicide Of The Employee

By शिव मौर्या 
Updated Date

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजित जोगी और उनके बेटे अमित जोगी के खिलाफ सिविल लाइन थाने में एफआईआर दर्ज की गयी है। आरोप है कि इन्होंने कर्मचारी को आत्महत्या के लिए उकसाया था। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। वहीं, अमित जोगी ने कहा है कि पीड़ित परिवार के साथ हमारी पूरी सहानुभूति है। जोगी परिवार का इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना से कोई लेनादेना नहीं था।

पढ़ें :- काशी पूरे विश्‍व को प्रकाश देने वाली है, यहां की गलियां जीवंत और ऊर्जावान हैं : पीएम मोदी

राजनीतिक प्रतिशोध से सत्ताधारी दल के इशारे पर कल देर रात FIR दर्ज की गई, इसलिए हम न्यायिक मजिस्ट्रेट अथवा CBI से जांच की मांग करते हैं। हमारे लिए सभी न्यायिक विकल्प खुले हैं। बता दें कि, बिलासपुर स्थित मरवाही सदन में कार्यरत संतोष कौशिक नाम के कर्मचारी ने बुधवार को बंगले में फांसी लगा ली थी। इसको लेकर पीड़ित परिजनों ने जोगी परिवार पर गंभीर आरोप लगाए थे।

पढ़ें :- रोहित शर्मा के बिना टीम इंडिया अधूरी, ज्यादातर मैचों में मिली हार, आंकड़े जानकर हो जायेंगे हैरान

पुलिस ने मृतक के भाई कृष्ण कुमार कौशिक की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल सिविल लाइन पुलिस मामले की जांच कर रही है। इधर, जेसीसीजे नेता इकबाल अहमद रिजवी का कहना है कि फिलहाल इस मामले में कुछ कहा नहीं जा सकता। हम मामले की निष्पक्ष जांच की मांग करते हैं।

बता दें कि, मृतक संतोष कौशिक के बड़े भाई कृष्ण कुमार ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए अपने भाई की खुदकुशी के लिए अजीत और अमित जोगी को जवाबदेह ठहराया है। कृष्ण कुमार का कहना है कि उसके भाई मृतक संतोष कौशिक को चांदी की केतली चोरी के आरोप में जेल भेजने की धमकी दी जा रही थी। इससे प्रताड़ित होकर संतोष ने खुदकुशी कर ली।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...