1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड के पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत बोले-कोरोना वायरस भी जीवित जीव, उसे भी जीने का अधिकार

उत्तराखंड के पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत बोले-कोरोना वायरस भी जीवित जीव, उसे भी जीने का अधिकार

उत्तराखंड के पूर्व सीएम नेता त्रिवेन्द्र सिंह रावत अपने बयान के कारण इन दिनों सुर्खियों में हैं। त्रिवेन्द्र सिंह रावत के इस बयान के बाद वह विपक्ष के निशाने पर भी आ गए हैं। दरअसल, गुरुवार को उन्होंने कोरोना वायरस को एक जीवित जीव बताया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

देहरादून। उत्तराखंड के पूर्व सीएम नेता त्रिवेन्द्र सिंह रावत अपने बयान के कारण इन दिनों सुर्खियों में हैं। त्रिवेन्द्र सिंह रावत के इस बयान के बाद वह विपक्ष के निशाने पर भी आ गए हैं। दरअसल, गुरुवार को उन्होंने कोरोना वायरस को एक जीवित जीव बताया है।

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा

इसके साथ ही कहा कि उसे जीने का अधिकार है। पूर्व सीएम के इस बयान के बाद सोशल मीडिय पर तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रहीं हैं। विपक्ष भी इस बयान को लेकर पूर्व सीएम पर तंज कस रहा है।

दरअसल, पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा था, ‘दार्शनिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो कोरोनावायरस भी एक जीवित जीव है, बाकी लोगों की तरह इसे भी जीने का अधिकार है, लेकिन हम (मनुष्य) खुद को सबसे बुद्धिमान समझते हैं और इसे खत्म करने के लिए तैयार हैं, इसलिए यह खुद को लगातार बदल रहा है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मनुष्य को सुरक्षित रहने के लिए वायरस से आगे निकलना पड़ेगा। पूर्व सीएम के इस बयान पर कांग्रेस नेता गौरव पंधी ने कहा कि ऐसे लोगों के बयानों से यह आश्चर्य की बात नहीं होनी चाहिए कि हमारा देश आज दुनिया में सबसे ज्यादा मानवीय त्रासदी झेल रहा है।

पढ़ें :- Hindenburg Research Report से शेयर बाजार में मचा तहलका, अडानी ग्रुप में जानें कितना लगा है सरकारी पैसा, सकते में LIC और बड़े बैंक
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...