जामिया हिंसा मामले में घिरे पूर्व कांग्रेस MLA, क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के लिए बुलाया 

ashij khan
जामिया हिंसा मामले में घिरे पूर्व कांग्रेस MLA, क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के लिए बुलाया 

नई दिल्ली। दिल्ली के न्यू फ्रेंडस कालोनी हिंसा मामले में आरोपी बनाए गए कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान को क्राइम ब्रांच ने नोटिस जारी कर पूछताछ में शामिल होने के लिए कहा है। दिल्ली पुलिस ने यह नोटिस सीआरपीसी के सेक्शन 160 के तहत जारी कर 24 जनवरी को क्राइम ब्रांच के सामने पेश होने के लिए कहा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, 16 दिसंबर को जामिया और न्यू फ़्रेंडस कॉलोनी में बसों पर पत्थरबाजी हुई थी, उसमें इसकी भूमिका सामने आई थी।

Former Congress Mla Engulfed In Jamia Violence Crime Branch Called For Questioning :

हिंसक प्रदर्शनों में आया था नाम

बता दें कि पिछले महीने (दिसंबर) जामिया मिलिया इस्लामिया के पास हुए हिंसक प्रदर्शन पर पुलिस ने कांग्रेस के पूर्व नेता आसिफ मोहम्मद खान पर एफआईआर दर्ज की थी। पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान 18 दिसंबर को जामिया नगर थाने भी पहुंच गये थे। इस दौरान उन्होंने कहा था कि पुलिस को अगर मैं दोषी लगता हूं तो मुझे गिरफ्तार करे।

आसिफ खान दिल्ली के ओखला क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक रहे हैं। उन्होंने यहां वर्ष 2009 के उपचुनाव और 2013 में जीत हासिल की थी। लेकिन वो इस बार कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं। उन्होंने फरवरी में होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए ओखला से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर पर्चा दाखिल किया है।

जानिए पूरा मामला

जानकारी के लिए बता दें दक्षिण पूर्वी दिल्ली के नई फ्रेंड्स कॉलोनी थाना इलाके में CAA और NRC के विरोध के बाद हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम के सामने पूछताछ के लिए कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान और स्थानीय नेता आशु खान पेश होंगे। इस दिन इन दोनों से क्राइम ब्रांच के चाणक्यपुरी दफ्तर में 11 बजे जामिया हिंसा पर पूछताछ होगी। बता दें, इन दोनों नेताओं का नाम एफआईआर में दर्ज है।  

नई दिल्ली। दिल्ली के न्यू फ्रेंडस कालोनी हिंसा मामले में आरोपी बनाए गए कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान को क्राइम ब्रांच ने नोटिस जारी कर पूछताछ में शामिल होने के लिए कहा है। दिल्ली पुलिस ने यह नोटिस सीआरपीसी के सेक्शन 160 के तहत जारी कर 24 जनवरी को क्राइम ब्रांच के सामने पेश होने के लिए कहा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, 16 दिसंबर को जामिया और न्यू फ़्रेंडस कॉलोनी में बसों पर पत्थरबाजी हुई थी, उसमें इसकी भूमिका सामने आई थी। हिंसक प्रदर्शनों में आया था नाम बता दें कि पिछले महीने (दिसंबर) जामिया मिलिया इस्लामिया के पास हुए हिंसक प्रदर्शन पर पुलिस ने कांग्रेस के पूर्व नेता आसिफ मोहम्मद खान पर एफआईआर दर्ज की थी। पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान 18 दिसंबर को जामिया नगर थाने भी पहुंच गये थे। इस दौरान उन्होंने कहा था कि पुलिस को अगर मैं दोषी लगता हूं तो मुझे गिरफ्तार करे। आसिफ खान दिल्ली के ओखला क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक रहे हैं। उन्होंने यहां वर्ष 2009 के उपचुनाव और 2013 में जीत हासिल की थी। लेकिन वो इस बार कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं। उन्होंने फरवरी में होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए ओखला से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर पर्चा दाखिल किया है। जानिए पूरा मामला जानकारी के लिए बता दें दक्षिण पूर्वी दिल्ली के नई फ्रेंड्स कॉलोनी थाना इलाके में CAA और NRC के विरोध के बाद हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम के सामने पूछताछ के लिए कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान और स्थानीय नेता आशु खान पेश होंगे। इस दिन इन दोनों से क्राइम ब्रांच के चाणक्यपुरी दफ्तर में 11 बजे जामिया हिंसा पर पूछताछ होगी। बता दें, इन दोनों नेताओं का नाम एफआईआर में दर्ज है।