इस भारतीय बेटे ने तोड़ डाला बाप का 30 साल पुराना रिकार्ड, फिर बाप ने कहा कुछ ऐसा…

नई दिल्ली। किसी बाप के लिए इससे खुशी की बात क्या हो सकती है कि उसका बेटा ही उसके बनाए रिकर्ड को तोड़ें। वाकई में यह हर बाप के लिए गर्व की बात होगी। कुछ ऐसा ही हुआ है पूर्व भारतीय क्रिकेटर नयन मोंगिया के साथ। दरअसल, उनका 30 साल पुराना रिकार्ड उनके बेटे मोहित मोंगिया ने तोड़ डाला है। मोहित ने मुंबई के खिलाफ 246 गेंदों में नाबाद 240 रनों की पारी खेली जो कि बड़ौदा की ओर से कूच बिहार ट्रॉफी में किसी बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर है। इससे पहले उनके पिता नयन मोंगिया ने 1988 में केरल के खिलाफ बड़ौदा की ओर से खेलते हुए 224 रन बनाए थे।

क्या कहते है पिता
बेटे द्वारा खुद का रिकॉर्ड तोड़े जाने के बाद नयन मोंगिया ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ‘मैं खुश हूं कि मेरे बेटे ने यह रिकॉर्ड तोड़ा. यह अविश्वसनीय है. मोहित जोरदार खेल रहा है. वह इस रिकॉर्ड के योग्य भी है’। उन्होंने कहा, ‘मोहित ने मुझे कॉल किया था वह इस पारी को लेकर काफी खुश है। भारत की ओर से 44 टेस्ट और 140 वनडे खेल चुके नयन ने कहा कि उसे सिर्फ एक डबल सेंचुरी से ही संतुष्ट नहीं होना चाहिए।’

{ यह भी पढ़ें:- कप्तान विराट बने 'ICC क्रिकेटर ऑफ द ईयर 2017' }

इस मुकाबले में केरल ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 370 रन बनाए थे। मोहित के दोहरे शतक की बदौलत बड़ौदा ने दिन का खेल खत्म होने तक 7 विकेट पर 409 रन बना लिए थे, मोहित नाबाद लौटे।

बन सकते हैं अगले स्टार
मोहित अपने पिता से क्रिकेट में एक कदम आगे बढ़ गए हैं और यदि यूं ही खेलते रहे तो आने वाले दिनों में उन्हें भारत की सीनियर टीम में खेलने का मौका भी मिल सकता है। वह इन दिनों कूच बिहार ट्रॉफी में बड़ौदा की अंडर-19 क्रिकेट टीम की कप्तानी कर रहे हैं और धूम मचाए हुए हैं।

{ यह भी पढ़ें:- IND vs SA LIVE : बुमराह ने दक्षिण अफ्रीका को दिया झटका, मार्कराम के बाद अमला को भी किया आउट }

Loading...