1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. पूर्व केंद्रीय मंत्री काजी रसीद मसूद का निधन, दिग्गज नेताओं में होती थी गिनती

पूर्व केंद्रीय मंत्री काजी रसीद मसूद का निधन, दिग्गज नेताओं में होती थी गिनती

Former Union Minister Qazi Rasid Masood Passed Away Veteran Leaders Used To Count

By शिव मौर्या 
Updated Date

सहारनपुर। पूर्व केंद्रीय मंत्री काजी रसीद मसूद का सोमवार निधन हो गया। दिग्गज राजनेताओं में उनकी गिनती होती थी और वह 9 बार के सांसद थे। कोरोना संक्रिमत पाए जाने के बाद उन्हें 27 अगस्त को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से तीन दिन पहले ही वह सहारनपुर से अपने घर लौटे थे।

पढ़ें :- यूपी विधानसभा में ध्वनि मत से पारित हुआ लव जिहाद विधेयक, विधान परिषद में होगी परीक्षा

इसके बाद फिर से तबीयत खराब होने पर उन्हें रुड़की के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर उनका निधन हो गया। बता दें कि आज करीब 5 बजे उनके पैतृक निवास स्थल गंगोह स्थित कब्रिस्तान में शव सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। गौरतलब है कि काजी रशीद मसूद 1977 में पहली बार जनता पार्टी के टिकट पर सांसद चुने गए थे। उस समय उन्होंने सहारनपुर लोकसभा सीट से ही चुनाव लड़ा था।

काजी रसीद मसूद सहारनपुर पांच बार सासंद चुने गए थे। उनकी गिनती पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दिग्गज राजनेताओं में होती थी। पांच दशकों के सियासी सफर में वह वीपी सिंह से लेकर मुलायम सिंह यादव के हमसफर रहे। वहीं, 2012 में वह कांग्रेस में भी शामिल हुए थे। बता दें कि, सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने रशीद मसूद को वर्ष 2007 में उप राष्ट्रपति का चुनाव लड़ाया था।

वह संयुक्त राष्ट्रीय प्रगतिशील गठबंधन के प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़े थे। इस चुनाव में प्रतिभा पाटिल विजयी हुईं थी। मसूद 75 वोट हासिल कर तीसरे नंबर पर रहे थे। पूर्व केंद्रीय मंत्री काजी रसीद मसूद के निधन की सूचना मिलने के बाद उनके प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ पड़ी।

 

पढ़ें :- अखिलेश यादव का पलटवार, कहा-लाल टोपी से क्यों डरते हैं सीएम योगी आदित्यनाथ

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...