अलीगढ़ हत्‍याकांड: मासूम का कत्ल कर फ्रिज में रख दी थी लाश, मुख्य आरोपी समेत चार आरोपी हुए गिरफ्तार

aligarh
अलीगढ़ हत्‍याकांड: मासूम का कत्ल कर फ्रिज में रख दी थी लाश, मुख्य आरोपी समेत चार आरोपी हुए गिरफ्तार

अलीगढ़। अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची के साथ हैवानित कर मौत के घाट उतारने वाले मुख्य आरोपी समेत चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्याकाण्ड के जांच के लिए गठित एसआईटी टीम जांच पड़ताल में जुटी है। शुरूआती जांच में सामने आया है कि बच्ची की हत्या करने के बाद आरोपियों ने उसके शव को फ्रिज में छुपा दिया था। पुलिस को शक है कि ऐसा इसलिए किये थे कि शव से दुर्गन्ध न आए। फिलहाल पुलिस इस हत्याकाण्ड से जुड़े हर एक कड़ी को जोड़कर जांच पड़ताल कर रही है।

Four Arrested In Murder Of Innocent Child :

पुलिस ने मुख्य आरोपी ज़ाहिद और उसकी पत्नी शाहिस्ता समेत 4 लोग गिरफ्तार किया है। एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि जाहिद की पत्नी शाहिस्ता के दुपट्टे में बच्ची का शव लिपटा हुआ था। वहीं पीड़ित परिवार ने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की है। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आरोपी मेंहदी हसन मुख्य आरोपी जाहिद का भाई है। फिलहाल पुलिस मेंहदी हसन से पूछताछ में जुटी हुई है।

मेंहदी पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जिस दिन मासूम बच्ची का शव मिला, उसी दिन लोगों ने मेंहदी की जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद से वे फरार हो गया था। इससे पहले पुलिस ने दो आरोपियों जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया था।

बता दें कि इस मामले में लापरवाही करने के आरोप में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इन पर देरी से गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने के अलावा, बच्ची की खोज और हत्या के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही बरतने का आरोप है। आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी।

अलीगढ़। अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची के साथ हैवानित कर मौत के घाट उतारने वाले मुख्य आरोपी समेत चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्याकाण्ड के जांच के लिए गठित एसआईटी टीम जांच पड़ताल में जुटी है। शुरूआती जांच में सामने आया है कि बच्ची की हत्या करने के बाद आरोपियों ने उसके शव को फ्रिज में छुपा दिया था। पुलिस को शक है कि ऐसा इसलिए किये थे कि शव से दुर्गन्ध न आए। फिलहाल पुलिस इस हत्याकाण्ड से जुड़े हर एक कड़ी को जोड़कर जांच पड़ताल कर रही है। पुलिस ने मुख्य आरोपी ज़ाहिद और उसकी पत्नी शाहिस्ता समेत 4 लोग गिरफ्तार किया है। एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि जाहिद की पत्नी शाहिस्ता के दुपट्टे में बच्ची का शव लिपटा हुआ था। वहीं पीड़ित परिवार ने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की है। बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आरोपी मेंहदी हसन मुख्य आरोपी जाहिद का भाई है। फिलहाल पुलिस मेंहदी हसन से पूछताछ में जुटी हुई है। मेंहदी पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है। बताया जा रहा है कि जिस दिन मासूम बच्ची का शव मिला, उसी दिन लोगों ने मेंहदी की जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद से वे फरार हो गया था। इससे पहले पुलिस ने दो आरोपियों जाहिद और असलम को गिरफ्तार किया था। बता दें कि इस मामले में लापरवाही करने के आरोप में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इन पर देरी से गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखने के अलावा, बच्ची की खोज और हत्या के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी में लापरवाही बरतने का आरोप है। आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी।