दंपति समेत चार की गड़ासे से काटकर हत्या, गांव में दहशत

mau 4 killed
दंपति समेत चार की गड़ासे से काटकर हत्या, गांव में दहशत

मऊ। यूपी के मऊ में पट्टीदारों ने पुराने विवाद में दंपति समेत चार लोगों की धारदार हथियारों से हमला करके हत्या कर दी गई। यह वारदात शुक्रवार की देर रात तब हुई जब रानीपुर थाना क्षेत्र के ब्राह्मणपुरा गांव के हुड़हरा की मठिया पुरवे में रहने वाला परिवार ट्यूबवेल पर सो रहा था। हमलावर आधा दर्जन की संख्या में थे। इस हमले में एक हमलावर भी मारा गया है जबकि एक बुजुर्ग को गंभीर चोटें आई। जिसे उपचार के लिये वाराणसी रेफर कर दिया गया। वारदात का कारण एक दशक से पट्टीदारों के बीच पोखरी पर कब्जे को लेकर माना जा रहा है।

Four Including The Couple Were Hacked To Death Terror In The Village :

पुलिस के मुताबिक ग्राम सभा ब्राह्मणपुरा के हुड़हरा की मठिया पुरवा निवासी शिवचंद शुक्रवार की रात घर से भोजन करने के बाद अपनी पत्नी 40 वर्षीय गीता , 60 वर्षीय पिता देवकी, 12 वर्षीय बेटे राज, 16 वर्षीय गोलू के साथ ट्यूबवेल पर सोने चला गया। देर रात 12 बजे पट्टीदार टुनटुन आधा दर्जन बदमाशों के साथ ट्यूबवैल पर आ धमका। आरोपियों ने धारदार हथियारों से बाहर सो रहे शिवचंद पर हमला बोल दिया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। शोर सुनकर जैसे ही शिवचंद की पत्नी गीता बाहर निकली तो हमलावरों ने इसे भी गड़ासे से काट डाला।

इसके बाद आरोपियों ने बेटे राज, गोलू व इनके दादा पर भी हमला करना शुरू कर दिया। इसमें एक हमलावर टुनटुन की अपने साथियों के हमले में ही मौत हो गई। बुजुर्ग देवकी गंभीर रूप से घायल हो गये। घटना को अंजाम देकर हमलावर भाग निकले। शोर गुल सुनकर मौके पर पहुंचे ग्रामीण तीन हत्याओं को देखकर आवाक हो गये। जानकारी होते ही एसपी अनुराग आर्य भारी फोर्स के साथ पहुंच गये। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये जिला अस्पताल भेज दिया। गंम्भीर रूप से घायल देवकी को डाक्टरों ने वाराणसी के लिये रेफर कर दिया है। थाना प्रभारी रानीपुर इंस्पेक्टर अशोक यादव ने बताया की दोनों पक्षों के बीच पोखरी को लेकर विवाद चला आ रहा है। मामला कोर्ट में भी है। पूरी घटना की छानबीन की जा रही है।

हुड़हरा की मठिया में हमलावरों ने जमकर आधे घंटे तक तांडव किया। शोरगुल और घटना को देखकर ग्रामीण मौके पर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। हमलावरों के भागने के बाद ही किसी तरह से मौके पर पहुंचे। घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुरे इलाकों में घटना से सनसनी फैल गई है।

शिवचंद और इसकी पत्नी की हत्या करने के बाद हमलावरों घटना में नया मोड़ देने के लिये खुद अपने साथी टुनटुन की हत्या कर दी। हमले में मारे गये दंपति के बेटे गोलू ने बताया कि हमलावरों ने घटना को दूसरा रूप देने के लिए टुनटुन को भी मार डाला। एक साथ तीन हत्याओं से पूरा क्षेत्र दहल गया है।

तीन हत्याओं से फैली सनसनी को देखते हुये एसपी ने मौके पर भारी संख्या में फोर्स की तैनाती कर दी है। ग्रामीणों से शांति बनाये रखने के लिये अपील की जा रही है। एसपी ने लोगों को भरोसा दिया है कि शीघ्र ही हमलावर पकड़ लिये जायेंगे।

मऊ। यूपी के मऊ में पट्टीदारों ने पुराने विवाद में दंपति समेत चार लोगों की धारदार हथियारों से हमला करके हत्या कर दी गई। यह वारदात शुक्रवार की देर रात तब हुई जब रानीपुर थाना क्षेत्र के ब्राह्मणपुरा गांव के हुड़हरा की मठिया पुरवे में रहने वाला परिवार ट्यूबवेल पर सो रहा था। हमलावर आधा दर्जन की संख्या में थे। इस हमले में एक हमलावर भी मारा गया है जबकि एक बुजुर्ग को गंभीर चोटें आई। जिसे उपचार के लिये वाराणसी रेफर कर दिया गया। वारदात का कारण एक दशक से पट्टीदारों के बीच पोखरी पर कब्जे को लेकर माना जा रहा है। पुलिस के मुताबिक ग्राम सभा ब्राह्मणपुरा के हुड़हरा की मठिया पुरवा निवासी शिवचंद शुक्रवार की रात घर से भोजन करने के बाद अपनी पत्नी 40 वर्षीय गीता , 60 वर्षीय पिता देवकी, 12 वर्षीय बेटे राज, 16 वर्षीय गोलू के साथ ट्यूबवेल पर सोने चला गया। देर रात 12 बजे पट्टीदार टुनटुन आधा दर्जन बदमाशों के साथ ट्यूबवैल पर आ धमका। आरोपियों ने धारदार हथियारों से बाहर सो रहे शिवचंद पर हमला बोल दिया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। शोर सुनकर जैसे ही शिवचंद की पत्नी गीता बाहर निकली तो हमलावरों ने इसे भी गड़ासे से काट डाला। इसके बाद आरोपियों ने बेटे राज, गोलू व इनके दादा पर भी हमला करना शुरू कर दिया। इसमें एक हमलावर टुनटुन की अपने साथियों के हमले में ही मौत हो गई। बुजुर्ग देवकी गंभीर रूप से घायल हो गये। घटना को अंजाम देकर हमलावर भाग निकले। शोर गुल सुनकर मौके पर पहुंचे ग्रामीण तीन हत्याओं को देखकर आवाक हो गये। जानकारी होते ही एसपी अनुराग आर्य भारी फोर्स के साथ पहुंच गये। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये जिला अस्पताल भेज दिया। गंम्भीर रूप से घायल देवकी को डाक्टरों ने वाराणसी के लिये रेफर कर दिया है। थाना प्रभारी रानीपुर इंस्पेक्टर अशोक यादव ने बताया की दोनों पक्षों के बीच पोखरी को लेकर विवाद चला आ रहा है। मामला कोर्ट में भी है। पूरी घटना की छानबीन की जा रही है। हुड़हरा की मठिया में हमलावरों ने जमकर आधे घंटे तक तांडव किया। शोरगुल और घटना को देखकर ग्रामीण मौके पर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे थे। हमलावरों के भागने के बाद ही किसी तरह से मौके पर पहुंचे। घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुरे इलाकों में घटना से सनसनी फैल गई है। शिवचंद और इसकी पत्नी की हत्या करने के बाद हमलावरों घटना में नया मोड़ देने के लिये खुद अपने साथी टुनटुन की हत्या कर दी। हमले में मारे गये दंपति के बेटे गोलू ने बताया कि हमलावरों ने घटना को दूसरा रूप देने के लिए टुनटुन को भी मार डाला। एक साथ तीन हत्याओं से पूरा क्षेत्र दहल गया है। तीन हत्याओं से फैली सनसनी को देखते हुये एसपी ने मौके पर भारी संख्या में फोर्स की तैनाती कर दी है। ग्रामीणों से शांति बनाये रखने के लिये अपील की जा रही है। एसपी ने लोगों को भरोसा दिया है कि शीघ्र ही हमलावर पकड़ लिये जायेंगे।