1. हिन्दी समाचार
  2. महिला को थाने में निर्वस्त्र कर बेल्ट और डंडों से पीटा, एसएचओ लाइन हाजिर

महिला को थाने में निर्वस्त्र कर बेल्ट और डंडों से पीटा, एसएचओ लाइन हाजिर

Four Policemen Including Sho Shunted On Charges Of Maid Assault On Thef Tsuspicion In Gurugram

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

गुडग़ांव। डीएलएफ फेज 1 एच ब्लॉक स्थित कोठी में चोरी के आरोप में असम की महिला की थाने में पिटाई का मामला सामने आया है। पूछताछ के नाम पर थाने में उसे नौ घंटे तक प्रताडि़त करने की वजह से वह चलने फिरने की हालत में नहीं है। बुधवार को पूर्वोत्तर के लोगों के विरोध के बाद देरशाम पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकील ने एचएसओ समेत चार पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया।

पढ़ें :- किसान आंदोलनः सरकार और किसान संगठनों के बीच आज होगी 10वें दौरे की वार्ता

पुलिस आयुक्त ने कहा कि विभागीय जांच शुरू कर दी गई है। मामले में दोषी पाए जाने पर आरोपियों को निलंबित कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि असम की 30 वर्षीय महिला डीएलएफ फेज.1 एच ब्लॉक स्थित कोठी नंबर 9/7 में घरेलू सहायिका के तौर पर काम कर रही थी। 31 जुलाई को कोठी मालिक ने असम की महिला समेत दो अन्य महिलाओं पर चोरी का अंदेशा जताया।

डीएलएफ फेज 1 थाना पुलिस ने महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर मंगलवार सुबह पूछताछ के लिए सुबह नौ बजे तीनों को थाने में बुलाया। पीडि़ता का आरोप है कि थाने में उसके कपड़े उतार दिए गए और नाजुक अंगों पर डंडो से पिटाई की गई। शाम छह बजे उसके पति को बुलाकर उसे घर भेज दिया।

उस वक्त महिला चलने की हालत में भी नहीं थी। बुधवार सुबह थाने में दोबारा पेश होने के लिए दबाव बनाने पर पूर्वोत्तर से जुड़े संगठनों को सूचना दी गई तो वे थाने में पहुंचे। उन्होंने थाना प्रभारी समेत एसीपी और डीसीपी पूर्व को आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग पर अड़ गए। करीब पांच घंटे तक हुई बातचीत के बाद एसीपी सदर अमन यादव ने दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया तब जाकर सभी लोग शांत हुए।

एसीपी की ओर से रिपोर्ट अपने आला अधिकारियों को भेज दी। देर शाम को पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल ने बताया कि चोरी के मामले की जांच में पुलिसकर्मियों की ओर से लापरवाही की बात सामने आई है। उन्होंने बताया कि डीएलएफ फेज.1 थाना प्रभारी निरीक्षक सवित कुमार, महिला एएसआई मधुबाला, हेड कांस्टेबल अनिल और महिला कांस्टेबल कविता को लाइन हाजिर कर दिया है। चारों के खिलाफ इ विभागीय जांच शुरू कर दी गई है जिसमें दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी साथ ही चोरी के मामले में नए थाना प्रभारी से नए सिरे से जांच कराई जाएगी।

पढ़ें :- शोभायात्रा:धूमधाम से मनाया जा रहा माँ बनैलिया का 30वा वार्षिक उत्सव,नगर में बनाए गए सैकड़ों स्वागत द्वार

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...