जियो का टावर लगाने के नाम पर ठगी

a

लखनऊ। रिलायंस जियो कम्पनी का टॉवर लगाने का झांसा देकर जालसाज ने स्वास्थ्य भवन में तैनात कर्मचारी से 14300 रुपये ऐंठ लिए। पीडि़त ने टॉवर के लिए ऑनलाइन रिक्वेस्ट की थी। इसी के तहत जालसाज ने उसे फंसाया। उसके बाद और रुपयों की मांग की। शक होने पर पीडि़त ने पड़ताल की तो ठगी का पता चला। हजरतगंज पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

Fraud In Name Of Installing Jio Tower :

स्वास्थ्य भवन स्थित महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं में कार्यरत भानू प्रकाश जायसवाल ने बताया कि जियो कम्पनी में टॉवर लगवाने के लिए ऑनलाइन रिक्वेस्ट डाली थी। बीते 18 अप्रैल को उनके पास एक मेल आया कि आपकी रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली गयी है।

टॉवर लगाने के लिए प्रोसेसिंग फीस 14,300 रुपये जमा करने को कहा गया। मेल में दिये गये खाता नम्बर पर बिना कुछ सोचे.समझे भानू प्रकाश ने रुपये ट्रांसफर कर दिये। इसके बाद उनके पास एक फोन आया। फोनकर्ता ने रिलायंस जियो इंफोकॉम का कर्मचारी बनकर 32500 रुपये जमा करने को कहा। शक होने पर पीडि़त ने पड़ताल की तो पता चला कि उसके साथ ठगी हो रही है। पीडि़त भानू प्रकाश जायसवाल ने हजरतगंज कोतवाली में सोमवार को धोखाधड़ी व आईटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करायी है।

लखनऊ। रिलायंस जियो कम्पनी का टॉवर लगाने का झांसा देकर जालसाज ने स्वास्थ्य भवन में तैनात कर्मचारी से 14300 रुपये ऐंठ लिए। पीडि़त ने टॉवर के लिए ऑनलाइन रिक्वेस्ट की थी। इसी के तहत जालसाज ने उसे फंसाया। उसके बाद और रुपयों की मांग की। शक होने पर पीडि़त ने पड़ताल की तो ठगी का पता चला। हजरतगंज पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। स्वास्थ्य भवन स्थित महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं में कार्यरत भानू प्रकाश जायसवाल ने बताया कि जियो कम्पनी में टॉवर लगवाने के लिए ऑनलाइन रिक्वेस्ट डाली थी। बीते 18 अप्रैल को उनके पास एक मेल आया कि आपकी रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली गयी है। टॉवर लगाने के लिए प्रोसेसिंग फीस 14,300 रुपये जमा करने को कहा गया। मेल में दिये गये खाता नम्बर पर बिना कुछ सोचे.समझे भानू प्रकाश ने रुपये ट्रांसफर कर दिये। इसके बाद उनके पास एक फोन आया। फोनकर्ता ने रिलायंस जियो इंफोकॉम का कर्मचारी बनकर 32500 रुपये जमा करने को कहा। शक होने पर पीडि़त ने पड़ताल की तो पता चला कि उसके साथ ठगी हो रही है। पीडि़त भानू प्रकाश जायसवाल ने हजरतगंज कोतवाली में सोमवार को धोखाधड़ी व आईटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करायी है।