मोदी सरकार का गरीबों को तोहफा, FREE में मिलेगा LPG कनेक्शन

मोदी सरकार का गरीबों को तोहफा, FREE में मिलेगा LPG कनेक्शन
मोदी सरकार का गरीबों को तोहफा, FREE में मिलेगा LPG कनेक्शन

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव (Loksabha election 2019) से पहले केंद्र सरकार ने सभी गरीब परिवारों को मुफ्त एलपीजी कनेक्शन (Free LPG Gas Connection) देने का ऐलान किया है। यह योजना 2016 में शुरू की गई. इसके तहत मुख्यत: गरीबी रेखा से नीचे (BPL) के परिवारों की महिलाओं को निशुल्क रसोई गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया था। 2019 चुनाव से पहले उज्ज्वला स्कीम में यह विस्तार काफी मायने रखता है।

Free Lpg Gas Connection To All Poor Families Under Ujjwala Yojana Modi Government Decision :

केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, सरकार ने सभी गरीबों को उज्जवला योजना का लाभ देने का फैसला किया है। इसका लाभ लेने के लिए गरीब परिवार को 14 बिंदुओं का एक स्व घोषणापत्र देना होगा। उसमें यह बताना होगा कि उसके पास पहले से कोई गैस कनेक्शन नहीं है। साथ ही उसे अपना एक पहचान पत्र भी जमा कराना होगा।

प्रधान ने कहा कि पहले कनेक्शन 2011 की सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के आधार पर दिये जा रहे थे। बाद में इसे बढ़ाकर में सभी अनुसूचित जाति एवं जनजाति परिवारों, जंगलों में रहने वाले लोगों, अति पिछड़ा वर्ग, द्वीपों के रहवासी, घुमंतू जनजातियों, चाय बगानों के रहवासी तथा प्रधानमंत्री आवास योजना एवं अंत्योदय योजना के लाभार्थियों को भी शामिल कर दिया गया था। अब इसे बढ़ाकर सभी गरीब परिवारों को शामिल कर दिया गया है।

प्रधान ने कहा कि इस निर्णय से अब शत प्रतिशत परिवारों तक एलपीजी कनेक्शन की सुविधा पहुंच सकेगी। इस योजना में केंद्र सरकारी तेल कंपनियों को प्रति कनेक्शन 1,600 रुपए की सब्सिडी देती है। यह सब्सिडी सिलेंडर की जमानत और फिटिंग शुल्क के लिए होती है। ग्राहकों को चूल्हा खुद खरीदना होता है। उनपर वित्तीय बोझ कम करने के लिए सरकार चूल्हे और पहले भरे हुए सिलेंडर की कीमत मासिक किस्तों में भरने की छूट देती है।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव (Loksabha election 2019) से पहले केंद्र सरकार ने सभी गरीब परिवारों को मुफ्त एलपीजी कनेक्शन (Free LPG Gas Connection) देने का ऐलान किया है। यह योजना 2016 में शुरू की गई. इसके तहत मुख्यत: गरीबी रेखा से नीचे (BPL) के परिवारों की महिलाओं को निशुल्क रसोई गैस कनेक्शन देने का लक्ष्य रखा गया था। 2019 चुनाव से पहले उज्ज्वला स्कीम में यह विस्तार काफी मायने रखता है। केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद मीडिया से बात करते हुए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, सरकार ने सभी गरीबों को उज्जवला योजना का लाभ देने का फैसला किया है। इसका लाभ लेने के लिए गरीब परिवार को 14 बिंदुओं का एक स्व घोषणापत्र देना होगा। उसमें यह बताना होगा कि उसके पास पहले से कोई गैस कनेक्शन नहीं है। साथ ही उसे अपना एक पहचान पत्र भी जमा कराना होगा। प्रधान ने कहा कि पहले कनेक्शन 2011 की सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना के आधार पर दिये जा रहे थे। बाद में इसे बढ़ाकर में सभी अनुसूचित जाति एवं जनजाति परिवारों, जंगलों में रहने वाले लोगों, अति पिछड़ा वर्ग, द्वीपों के रहवासी, घुमंतू जनजातियों, चाय बगानों के रहवासी तथा प्रधानमंत्री आवास योजना एवं अंत्योदय योजना के लाभार्थियों को भी शामिल कर दिया गया था। अब इसे बढ़ाकर सभी गरीब परिवारों को शामिल कर दिया गया है। प्रधान ने कहा कि इस निर्णय से अब शत प्रतिशत परिवारों तक एलपीजी कनेक्शन की सुविधा पहुंच सकेगी। इस योजना में केंद्र सरकारी तेल कंपनियों को प्रति कनेक्शन 1,600 रुपए की सब्सिडी देती है। यह सब्सिडी सिलेंडर की जमानत और फिटिंग शुल्क के लिए होती है। ग्राहकों को चूल्हा खुद खरीदना होता है। उनपर वित्तीय बोझ कम करने के लिए सरकार चूल्हे और पहले भरे हुए सिलेंडर की कीमत मासिक किस्तों में भरने की छूट देती है।