1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. गलवान घाटी झड़प मामला: चीन के मरे सैनिकों की सही संख्या बताने वाले ब्लागर को 8 माह कैद की सजा

गलवान घाटी झड़प मामला: चीन के मरे सैनिकों की सही संख्या बताने वाले ब्लागर को 8 माह कैद की सजा

गलवान घाटी में कुछ माह पहले भारत और चीन के सैनिकों के बीच टक्कर हो गई थी। जिसमें दोनो देशों के सैनिक मारे गये थे। एक रुसी न्यूज एजेंसी ने इस झड़प में करीब 45 चीनी सैनिकों के मरने का दावा किया था। हालांकि चीन की सरकार ने आकड़ों को स्पष्ट नहीं किया था। अपने देश के लोगो से सैनिकों के मौतों के आकड़े को सरकार लगातार छुपा रही थी। इसी दौरान चीन के एक ब्लागर ने सैनिकों के मौतों के आकड़े को अपने ब्लाग में लिख दिया था।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। गलवान घाटी में कुछ माह पहले भारत और चीन के सैनिकों के बीच टक्कर हो गई थी। जिसमें दोनो देशों के सैनिक मारे गये थे। एक रुसी न्यूज एजेंसी ने इस झड़प में करीब 45 चीनी सैनिकों के मरने का दावा किया था। हालांकि चीन की सरकार ने आकड़ों को स्पष्ट नहीं किया था। अपने देश के लोगो से सैनिकों के मौतों के आकड़े को सरकार लगातार छुपा रही थी।

पढ़ें :- Pakistan : चीन का कर्ज उतारने के लिए गिलगित-बाल्टिस्तान को सौंप सकता है पाकिस्तान

इसी दौरान चीन के एक ब्लागर ने सैनिकों के मौतों के आकड़े को अपने ब्लाग में लिख दिया था। जिस पर वहां की सरकार ने ब्लागर के इस कृत्य को गुनाह करार देते हुए 8 माह के कैद की सजा सुनाई है। इंटरनेट पर 2.5 मिलियन फॉलोअर्स के साथ सिलेब्रिटी स्टेटस हासिल कर चुके किउ जिमिंग पर शहीदों के अपमान का आरोप लगाया गया है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है।

ब्लॉगर को 8 महीने की सजा देने के साथ ही यह आदेश भी दिया गया है कि वह राष्ट्रीय मीडिया के जरिए 10 दिनों के अंदर अपने बयान को लेकर माफी मांगे। चीन की सरकार मात्र 4 सैनिकों की ही मौत की बात कर रही थी। लेकिन ब्लागर ने लिखा की भारत से झड़प के दौरान इससे कही ज्यादा लोगो की मौत हुई है। ऐसा लिखने के बाद वहां की सरकार आगबबुला हो गयी थी।

 

 

पढ़ें :- UNSC : पाकिस्तानी आतंकी के समर्थन में कूदा ड्रैगन, वीटो कर भारत व अमेरिकी प्रस्ताव को रोका

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...