1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. Ganesh Chaturthi 2022 : रेत के लड्डू से बनाई भगवान गणेश की प्रतिमा, आर्टिस्ट की तस्वीर ने किया मंत्रमुग्ध

Ganesh Chaturthi 2022 : रेत के लड्डू से बनाई भगवान गणेश की प्रतिमा, आर्टिस्ट की तस्वीर ने किया मंत्रमुग्ध

Ganesh Chaturthi 2022 : गणेश उत्सव (Ganesh Utsav) की बुधवार से शुरुआत हो चुकी है जो 10 दिनों तक चलेगा। भगवान गणेश (Lord Ganesha) को रिद्धि-सिद्धि और सुख-समृद्धि देने वाला माना जाता है। इनकी आराधना करने से जीवन में चल रही परेशानियां दूर होती हैं और मनोकामनाएं पूरी होती हैं। हर साल भाद्रपद माह (Bhadrapada month) के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को गणेश चतुर्थी का त्योहार (Festival of Ganesh Chaturthi ) मनाया जाता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Ganesh Chaturthi 2022 : गणेश उत्सव (Ganesh Utsav) की बुधवार से शुरुआत हो चुकी है जो 10 दिनों तक चलेगा। भगवान गणेश (Lord Ganesha) को रिद्धि-सिद्धि और सुख-समृद्धि देने वाला माना जाता है। इनकी आराधना करने से जीवन में चल रही परेशानियां दूर होती हैं और मनोकामनाएं पूरी होती हैं। हर साल भाद्रपद माह (Bhadrapada month) के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि (Chaturthi Tithi) को गणेश चतुर्थी का त्योहार (Festival of Ganesh Chaturthi ) मनाया जाता है।

पढ़ें :- हनुमान का किरदार निभा रहे एक बुजुर्ग की मंचन के दौरान हार्ट अटैक से मौत, देखें वीडियो

धार्मिक पुराणों (Religious Mythology) के मुताबिक, भाद्रपद माह के शुक्लपक्ष (Shukla Paksha of Bhadrapada Month) की चतुर्थी तिथि को विघ्नहर्ता और रिद्धि-सिद्धि के दाता भगवान गणेश (Lord Ganesha) का जन्म हुआ था। इसकी वजह से भाद्रपद माह के शुक्लपक्ष की चतुर्थी का विशेष महत्व होता है। आज से लोग अपने-अपने घरों और पंडालों में भगवान गणेश (Lord Ganesha) की प्रतिमा स्थापित करते हैं और विधिवत पूजा-अर्चना करते हैं। इस मौके पर लोग एक दूसरे को शुभकामनाएं भी देते हैं। इस मौके पर पद्मश्री पुरस्कार विजेता और भारत के सबसे बड़े सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक (Sand Artist Sudarshan Patnaik) ने अनोखे अंदाज में देशवासियों को गणेश चतुर्थी (Chaturthi Tithi)  की बधाई दी है।

सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक (Sand Artist Sudarshan Patnaik)  ने ओडिशा में स्थित पुरी समुद्र तट पर रेत से भगवान गणेश (Lord Ganesha) की प्रतिमा बनाई है। उन्होंने इस प्रतिमा को बनाने के लिए रेत के बने 3,425 लड्डू और कुछ फूलों का इस्तेमाल किया है। उन्होंने भगवान गणेश (Lord Ganesha) की मूर्ति हरे रंग की बनाई है जिसमें एक खास संदेश छिपा हुआ है।

 

सुदर्शन पटनायक (Sudarshan Patnaik) ने भगवान गणेश (Lord Ganesha) की मूर्ति के साथ ही रेत से हाथी भी बनाए हैं। उनके द्वारा हैप्पी गणेश पूजा के साथ बनाई गई भगवान गणेश (Sudarshan Patnaik)  की मूर्ति छह फीट ऊंची है। उन्होंने अपने शुभकामना संदेश में दो हाथियों को पर्यावरण की रक्षा लिए प्रार्थना करते हुए दिखाया है।

विश्व चैंपियनशिप  सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक (Sand Artist Sudarshan Patnaik) को पद्म पुरस्कार (Padma Awards) से भी सम्मानित किया गाय है। वह हमेशा अपनी कला के जरिए जागरूकता फैलाते हैं। पटनायक ने 60 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय रेत कला उत्सवों और चैंपियनशिप में हिस्सा लिया है और कई पुरस्कार जीते हैं।

सुदर्शन पटनायक (Sudarshan Patnaik)  हर छोटे बड़े मौके पर रेत से आर्ट बनाते हैं और सोशल मीडिया शेयर करते हैं। लोग उनकी कला की खूब सराहना करते हैं। उड़ीसा के रहने वाले सुदर्शन पटनायक (Sudarshan Patnaik)  अपनी आर्ट के लिए पूरी दुनिया में जाते हैं।

पढ़ें :- Viral Video: दो बिल्लियों की लड़ाई को डॉगी ने सुलझाया, वीडियो देख आप भी रह जाएंगे हैरान

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...