लखनऊ फिर शर्मसार: गैंगरेप और एसिड अटैक पीड़िता तीसरी बार बनी एसिड हमले का शिकार

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के अलीगंज इलाके के गर्ल्स हास्टल में रहकर अपने परिवार के लिए आजीविका कमाने की कोशिश में लगी गैंगरेप और एसिड अटैक पीड़िता पर शनिवार को तीसरी बार एसिड हमला किया गया। पीड़िता को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया है, जबकि हमलावर बड़ी सफाई से अपने मनसूबों को अंजाम देकर भागने में कामयाब रहे।

यह बात बेहद हैरान करने वाली है कि पीड़िता पर जिस समय हमला हुआ उस समय यूपी ​पुलिस द्वारा उपलब्ध करवाया गया गनर उसकी सुरक्षा में तैनात था। इसके बावजूद हमलावर वारदात को अंजाम देकर फरार होने में कामयाब रहे।

{ यह भी पढ़ें:- ब्राइटलैंड स्कूल केस: मासूम की निशानदेही पर छात्रा से हुई पूछताछ, KGMU पहुंचे सीएम योगी }

यूपी पुलिस का कहना है कि सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मी हास्टल के गेट पर था और पीड़िता हॉस्टल के भीतर फोन पर बात कर रही थी। इसी दौरान उसपर हमला हुआ जिसमें उसके चेहरे का काफी हिस्सा जल गया है।

वहीं पीड़िता के साथ काम करने वाली अन्य एसिड अटैक पीड़िताओं का कहना है कि उनकी दोस्त शनिवार को ड्यूटी के बाद वापस हॉस्टल लौट रही उसी दौरान उस पर हमला हुआ। उसे फोन पर लगातार धमकियां मिल रहीं थीं।

{ यह भी पढ़ें:- ताज का दीदार करने पहुंचे पीएम बेंजामिन नेतन्याहू, सीएम योगी ने किया स्वागत }

लखनऊ के गोमतीनगर स्थित एसिड अटैक पीड़ितों के लिए संचालित एक रेस्टोरेन्ट में काम कर अपने दो बच्चों के लिए आ​जीविका कमाने वाली इस पीड़िता पर तीन महीने पहले रायबरेली से लखनऊ आते समय एसिड अटैक हुआ था। उस समय मेडिकल कालेज में एसिड पीड़िता के इलाज में लापरवाही की खबरें अखबारों में आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मेडिकल कालेज का औचक दौरा कर पीड़िता के बेहतर इलाज के निर्देश देते हुए आर्थिक मदद और सुरक्षा मुहैया करवाने के आदेश जारी किए थे।

आपको बता दें कि लगातार एसिड हमलों का शिकार हो रही इस महिला के साथ जायदाद के विवाद की रंजिश में साल 2008 में गैंगरेप हुआ था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद पीड़िता पर दवाब बनाने की नियत से साल 2011 और 2013 में एसिड हमले भी किए गए। बताया जाता है कि इन हमलों का सीधा संबन्ध उस पुरानी रंजिश से है जिसके चलते गांव के दबंग उसपर आपराधिक मामलों को वापस लेने का दवाब बनान रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- अमेठी में गुण्डाराज: दबंगो ने दिनदहाड़े दुकान कर दी जमींदोज }

Loading...