1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Ganga Dussehra 2022 : ‘गंगा तव दर्शनात् मुक्ति’, इस दिन धूमधाम से मनाया जाएगा गंगा दशहरा

Ganga Dussehra 2022 : ‘गंगा तव दर्शनात् मुक्ति’, इस दिन धूमधाम से मनाया जाएगा गंगा दशहरा

सनातन धर्म में मां गंगा को  मोक्ष दायिनी माना जाता है। पौराणिक ग्रंथों में कहा गया है कि 'गंगा तव दर्शनात् मुक्ति' यानी कि गंगा के दर्शन मात्र से ही मुक्ति मिल जाती है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Ganga Dussehra 2022  : सनातन धर्म में मां गंगा को  मोक्ष दायिनी माना जाता है। पौराणिक ग्रंथों में कहा गया है कि ‘गंगा तव दर्शनात् मुक्ति’ , यानी कि गंगा के दर्शन मात्र से ही मुक्ति मिल जाती है। धार्मिक मान्यता  के अनुसार,गंगा दशहरा के दिन ही मां गंगा धरती पर आईं थीं। इस ​तिथि् पर पावन पर्व गंगा दशहरा को धूम धाम से मनाया जाता है। गंगा दशहरा हिंदू धर्म के पावन त्योहारो में से एक है। मान्यता के अनुसार, इस दिन गंगा में स्नान और दान का बहुत उत्तम फल होता प्राप्त है। गा में स्नान से सभी तरह के पाप धुल जाते है। गंगा दशहरा के पावन पर्व पर गंगा सहित पवित्र सभी नदियों के किनारे मेले का आयोजन होता है। भारी संख्या में श्रद्धालु मां गंगा की आरती करते है।

पढ़ें :- Ganga Dussehra 2022 : गंगा दशहरा के दिन गंगा नदी में स्नान करने की परंपरा है, लोग उल्लासपूर्वक धार्मिक आयोजन करते है

इस साल गंगा दशहरा 9 जून को मनाया जाएगा। 9 जून को दशमी तिथि सुबह 8.21 से शुरू होगी और अगले दिन 10 जून को शाम को 7.25 बजे समाप्त होगी।गंगा दशहरा के पर्व पर हस्त नक्षत्र और व्यतीपात योग भी रहेगा। इस दिन दान पुण्य करने से काफी लाभ की प्राप्ति मिलेगी।

मां गंगा मंत्र-
ॐ नमो गंगायै विश्वरूपिण्यै नारायण्यै नमो नमः’

गंगा दशहरा के दिन शर्बत, पानी, मटका, खरबूजा, पंखा, आम ,चीनी आदि चीजें दान की जाती हैं।

पढ़ें :- Jyeshtha Month 2022 : इस दिन से शुरू हो रहा है पवित्र ज्येष्ठ माह, जानिए कब है गंगा दशहरा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...