1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Gangrape : आरोपी महंत सीताराम गिरफ्तार, हुलिया बदलकर यूपी भागने की था फिराक में

Gangrape : आरोपी महंत सीताराम गिरफ्तार, हुलिया बदलकर यूपी भागने की था फिराक में

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रीवा में गैंगरेप के आरोपी महंत सीताराम (Gangrape accused Mahant Sitaram) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि ये आरोपी महंत हुलिया बदलकर यूपी भागने की फिराक में था। अब तक पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 2 आरोपियों की तलाश जारी है। मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने आरोपी महंत सीताराम (Mahant Sitaram) को सिंगरौली जिले (Singrauli District) से गिरफ्तार किया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के रीवा में गैंगरेप के आरोपी महंत सीताराम (Gangrape accused Mahant Sitaram) को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि ये आरोपी महंत हुलिया बदलकर यूपी भागने की फिराक में था। अब तक पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 2 आरोपियों की तलाश जारी है। मध्य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) ने आरोपी महंत सीताराम (Mahant Sitaram) को सिंगरौली जिले (Singrauli District) से गिरफ्तार किया है।

पढ़ें :- Khargone Violence : दिग्विजय सिंह आपत्तिजनक फोटो ट्वीट कर फंसे, शिवराज सरकार ले सकती है एक्शन

मिली जानकारी के अनुसार वीआईपी राज निवास में बीते 28 मार्च को एक नाबालिग छात्रा से कथावाचक महंत सीताराम ने गैंगरेप किया था। आरोपी महंत सीताराम दास उर्फ सीताराम त्रिपाठी उर्फ़ समर्थ को पुलिस ने सिंगरौली जिले से गिरफ्तार कर लिया है। सीताराम दास हुलिया बदलने के लिए बैढन बस स्टैंड में एक नाई की दुकान में गया हुआ था।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) की कड़ी चेतावनी के बाद पुलिस ने साइबर सेल की मदद से सीताराम को पकड़ लिया है। आरोपी सीताराम को गिरफ्तार कर अभिरक्षा में लिया गया है। 28 मार्च को राज निवास के कमरा नं. 4 पर महंत सीताराम दास उर्फ सीताराम त्रिपाठी उर्फ़ समर्थ ने नाबालिग के साथ गैंगरेप किया था।

पुलिस ने महंत सीताराम त्रिपाठी (Mahant Sitaram Tripathi) , विनोद पाण्डेय और धीरेन्द्र मिश्रा और मोनू मिश्रा पर गैंगरेप का मामला दर्ज किया है। इन पर 342, 504, 323, 328, 376 (D) 506, 5/6 पोक्सो एक्ट का मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। अब तक पुलिस ने गैंगरेप के 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि 2 आरोपी फरार है।

महंत सीताराम त्रिपाठी उर्फ़ समर्थ श्री राम जानकी मंदिर बहराइच की गद्दी प्रमुख है। इसके अलावा कथा व्यास-वशिष्ठ पीठाधीश्वर ब्रह्मर्षि वेदांती जी महाराज श्रीधाम अयोध्या के भतीजे (Katha Vyasa-Vashishtha Peethadheeshwar Brahmarshi Vedanti Ji Maharaj Shridham Ayodhya) है। इस वजह से वह हाईप्रोफाइल लोगों से जुड़ गया। राजनेताओं से लेकर अफसरों तक इसके संबंध है।

पढ़ें :- Gangrape accused Mahant Sitaram : आरोपी महंत के पुश्तैनी घर पर चला बुलडोजर, नंगे पांव कराई गई परेड

मूलतः रीवा जिले का रहने वाला समर्थ त्रिपाठी बचपन से ही खुराफाती था। आपराधिक प्रकरण दर्ज होने पर वेदांती महाराज (Vedanti Maharaj) ने इसे महंत की कुर्सी दिला दी, लेकिन इसकी हरकतों में सुधार नहीं हुआ। सोशल मीडिया में सीताराम के कई अश्लील फोटो वीडियो वायरल है, जिसमें वह ना महिलाओं के साथ पार्टी कर रहा है। पिछले एक महीने से एक होटल में ठहरा था। सीताराम 2 अप्रैल से एक बिल्डर के नवनिर्मित मॉल के लोकार्पण कार्यक्रम के अवसर पर आयोजित कथावाचन करने वाला था। इस आयोजन के पहले ही वह एक होटल में ठहरा था, लेकिन यहां पर होटल संचालक से सीताराम की बहस हो गयी। उसके बाद कमरा महंत ने छोड़ दिया था।

महंत सीताराम राजनिवास के कमरा नंबर 4 में ठहरा था। इसमें वीवीआइपी को रुकने की अनुमति मिलती है। हैरत की बात है कि यह कमरा आदतन अपराधी विनोद पाण्डेय के नाम पर बुक था। नाबालिग को विनोद पाण्डेय ने ही बुलाया था और बाहर से दरवाजा बंद किया था। इतना नहीं नाबालिग को कार से दूसरी जगह ले जाने में भी शामिल था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...