बाराबंकी में युवती को अगवा कर गैंगरेप, आरोपितों को बचाने में जुटी पुलिस

बाराबंकी। सूबे में हत्या और दुराचार जैसी घटनाएं रूकने का नाम नही ले रही है। इसकी बानगी रविवार रात बाराबंकी के थाना क्षेत्र बड्डूपुर में पेश आई। यहां देर रात शौच के लिए निकली युवती को दो युवकों ने अगवा कर लिया और फिर गन्ने के खेत में ले जाकर उसके सााि दोनों ने दुराचार किया। घटना का युवती ने विरोध किया तो आरोपितों ने उसे जमकर पीटा।

Gangrape With A Girl In Barabanki After Kidnapping :

वही युवती काफी देर तक घर नही पहुंची तो परिजन उसे खोजने निकले। लेकिन रात भर युवती का कुछ पता नही चल सका। सुबह ग्रामीण खेतों की तरफ गए, जहां युवती एक गन्ने के खेत में रोते हुए मिली। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे परिजनों ने उससे पूछताछ की तो पीड़िता ने आपबीती बताई। तब परिजन उसे लेकर लेकर थाने पहुंचे और पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी। थानाध्यक्ष बीपी यादव ने बताया कि युवती के बयान के मुताबिक तथा घटना स्थल की जांच करने के बाद एक युवक द्वारा दुराचार करने की बात कही है।

बता दें कि पुलिस ने इस मामले में सिर्फ एक युवक के खिलाफ ही मुकदमा दर्ज किया है। पीड़ित परिवार का आरोप हैं कि पुलिस बाकी आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है। उनका कहना है कि बड्डूपुर पुलिस आरोपियों के साथ सांठगांठ कर मामले को रफा-दफा करनेका प्रयास कर रही है।

बता दें कि पीड़िता का पिता एक भूमिहीन किसान था। जो अपने परिवार के गुजारे के लिए संजय वर्मा निवासी ग्राम खजुरिया पुरवा मजरे गंगचौली के खेत बंटाई पर लेकर परिवार का भरण पोषण करते है। रात करीब 12 बजे बेटी शौच के लिए घर से निकली थी, तभी संजय ने पड़ोसी दिलीप वर्मा के साथ उसका अपहरण कर बाइक से गन्ने के खेत में ले गए और वहां पड़ी चारपाई पर बारी—बारी से उसके साथ दुराचार किया।

बाराबंकी। सूबे में हत्या और दुराचार जैसी घटनाएं रूकने का नाम नही ले रही है। इसकी बानगी रविवार रात बाराबंकी के थाना क्षेत्र बड्डूपुर में पेश आई। यहां देर रात शौच के लिए निकली युवती को दो युवकों ने अगवा कर लिया और फिर गन्ने के खेत में ले जाकर उसके सााि दोनों ने दुराचार किया। घटना का युवती ने विरोध किया तो आरोपितों ने उसे जमकर पीटा। वही युवती काफी देर तक घर नही पहुंची तो परिजन उसे खोजने निकले। लेकिन रात भर युवती का कुछ पता नही चल सका। सुबह ग्रामीण खेतों की तरफ गए, जहां युवती एक गन्ने के खेत में रोते हुए मिली। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे परिजनों ने उससे पूछताछ की तो पीड़िता ने आपबीती बताई। तब परिजन उसे लेकर लेकर थाने पहुंचे और पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी। थानाध्यक्ष बीपी यादव ने बताया कि युवती के बयान के मुताबिक तथा घटना स्थल की जांच करने के बाद एक युवक द्वारा दुराचार करने की बात कही है। बता दें कि पुलिस ने इस मामले में सिर्फ एक युवक के खिलाफ ही मुकदमा दर्ज किया है। पीड़ित परिवार का आरोप हैं कि पुलिस बाकी आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है। उनका कहना है कि बड्डूपुर पुलिस आरोपियों के साथ सांठगांठ कर मामले को रफा-दफा करनेका प्रयास कर रही है। बता दें कि पीड़िता का पिता एक भूमिहीन किसान था। जो अपने परिवार के गुजारे के लिए संजय वर्मा निवासी ग्राम खजुरिया पुरवा मजरे गंगचौली के खेत बंटाई पर लेकर परिवार का भरण पोषण करते है। रात करीब 12 बजे बेटी शौच के लिए घर से निकली थी, तभी संजय ने पड़ोसी दिलीप वर्मा के साथ उसका अपहरण कर बाइक से गन्ने के खेत में ले गए और वहां पड़ी चारपाई पर बारी—बारी से उसके साथ दुराचार किया।