भाई के साथ मेला देखने गई किशोरी से सात लोगों ने किया दुष्कर्म

gangrape
नाबालिग गैंगरेप पीड़िता का चरित्र हनन करते नजर आए कानपुर के डीप्टी एसपी

सीतापुर। सूबे के मुखिया चाहे जितना महिलाओं के सुरक्षित होने का दावा करें, लेकिन जमीनी ​हकीकत कुछ और ही है। सच्चाई ये है कि यहां महिलाएं सुरक्षित नही है। इसकी बानगी शनिवार को सीतापुर के संदना में देखने को मिली। जहां अपने भाई के साथ मेला देखने गई एक किशोरी को रास्ते में सात युवकों ने रोंक लिया और छेड़छाड़ शुरू कर दी। साथ रहे भाई ने इसका विरोध किया तो दबंगों ने उसे जमकर पीटा, और फिर चाकू से लहुलूहान करने के बाद सभी ने मिलकर किशोरी के साथ दुराचार किया। घटना की सूचना पुलिस को मिली तो उसके होश उड़ गए। वो तुरन्त घटनास्थल पर पहुंची और पीड़िता को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भेजा।

पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर छह लोगों को दबोच लिया, जबकि एक अभी भी फरार है। संदना थानाक्षेत्र में रहने वाली एक 13 वर्षीय किशोरी शनिवार शाम भाई के साथ मेला देखने निकली थी। वो दोनों गांव के बाहर निकले ही थे कि तभी सात युवकों ने उन्हे रोंक लिया। उन लोगों ने किशोरी से साथ छेड़छाड़ शुरु की तो साथ रहे भाई ने इसका विरोध किया। इससे नाराज सातों युवकों ने पहले तो उसे जमकर पीटा और​ फिर चाकू से हमलाकर उसे लहुलूहान कर दिया।

{ यह भी पढ़ें:- कलयुगी पिता ने दोस्तों के साथ बेटी से किया गैंगरेप }

पीड़िता के मुताबिक भाई के बेहोश होने पर सभी ने बारी—बारी से उसके साथ दुराचार किया और फिर किसी से बताने पर जान से मारने की धमकी देकर वहां से भाग निकले। बाद में पीड़िता बदहवाश हालत में घर पहुंची और परिजनों को आपबीती सुनाई। देर रात परिजनों ने पुलिस को इसकी जानकारी दी तो एसपी सीतापुर आनंद कुलकर्णी कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गये।

पूछताछ में संदना थाना क्षेत्र के गोंदलामऊ निवासी धन्नू, मनोज, कामता, चंदू, हिमांशु सहित सात लोगों का नाम सामने आया है। एसपी का कहना है कि हिमांशु, धन्नू और कांता सहित छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि एक आरोपी अभी भी फरार है।

{ यह भी पढ़ें:- फिर दिखा खाकी का अमानवीय चेहरा शव को रस्सी में बांधकर घसीटा }

सीतापुर। सूबे के मुखिया चाहे जितना महिलाओं के सुरक्षित होने का दावा करें, लेकिन जमीनी ​हकीकत कुछ और ही है। सच्चाई ये है कि यहां महिलाएं सुरक्षित नही है। इसकी बानगी शनिवार को सीतापुर के संदना में देखने को मिली। जहां अपने भाई के साथ मेला देखने गई एक किशोरी को रास्ते में सात युवकों ने रोंक लिया और छेड़छाड़ शुरू कर दी। साथ रहे भाई ने इसका विरोध किया तो दबंगों ने उसे जमकर पीटा, और फिर चाकू से…
Loading...