शहीद की बेटी का दर्द बांटने आगे आए गौतम गंभीर, बोले पूरे करो अपने सपने मैं उठाऊंगा खर्च

गौतम गंभीर
कारगिल युद्ध की नायक रहे मेजर डीपी सिंह के साथ गौतम गंभीर

नई दिल्ली। क्रिकेट के मैदान पर अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी और गुस्से के लिए मशहूर भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने मंगलवार को एक ट्वीट कर पूरे देश का ध्यान अपनी ओर खींच लिया है। 29 अगस्त को जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में आतंकवादियों की गोली का शिकार हुए एएसआई अब्दुल राशिद की शहादत को सलाम करते हुए गंभीर ने शहीद की शोकाकुल बेटी जोहरा को न सिर्फ ढ़ाढ़स बंधवाया बल्कि उसके सपने पूरा करने में सहयोग करने के लिए उसकी पढ़ाई का पूरा खर्चा वहन करने का आश्वासन दिया है।

गौतम गंभीर ने दो ट्वीट करते हुए लिखा है’ “जोहरा मैं तुम्हें थपकी देकर सुला तो नहीं सकता लेकिन तुम्हारें जीवन के सपनों को पूरा करने के लिए जगा जरूर सकता हूं। मैं आजीवन तुम्हें शिक्षा के लिए सहयोग करुंगा।”

{ यह भी पढ़ें:- पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने मोदी समर्थकों को दी गाली, पीएम थे निशाना }

गंभीर ने अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है, “जोहरा अपने इन आंसुओं को मत बहने दो क्योंकि मुझे लगता है कि धरती मां भी तुम्हारे दर्द का बोझ नहीं सह पाएगी। शहीद एएसआई अब्दुल रशीद को मेरा सलाम।”

यह पहला मौका नहीं है जब गौतम गंभीर ने देश के लिए शहादत देने वाले जवान के परिवार की मदद के लिए कोई कदम उठाया हो। इससे पहले भी वह कई शहीदों के बच्चों की पढ़ाई का खर्चा उठाने की घोषणा कर चुके हैं। वह इसे देश की शहीदों के प्रति अपना कर्तव्य मानते हैं।

आपको बता दें कि गौतम गंभीर क्रिकेट के मैदान के अलावा सोशल मीडिया पर अपनी बेबाक रॉय भी पूरे तर्क के साथ रखते हैं। वह देश की सीमाओं की सुरक्षा से लेकर जम्मू कश्मीर के हालात पर कई चुटीले ट्वीट कर चुके हैं। गौतम गंभीर भारतीय सुरक्षाबलों पर जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ की जाने वाली कार्रवाईयों पर सवाल उठाने वालों लोगों को भी जहरीले जवाब देने वालों में गिने जाते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- विकीलीक्स का खुलासा: अमेरिका की जासूसी कंपनी चुरा रही 'आधार-डाटा' }