बौद्धभिक्षु ने 15 नाबालिग बच्चों से किया यौनाचार, गिरफ्तार

बौद्धभिक्षु ने 15 नाबालिग बच्चों से किया यौनाचार, गिरफ्तार
बौद्धभिक्षु ने 15 नाबालिग बच्चों से किया यौनाचार, गिरफ्तार

Gaya Unnatural Sexual Assault At Meditation Centre In Gaya

बोधगया। मुजफ्फरपुर बालिका गृह और पटना स्थित आसरा हाउस का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि बिहार में एक ताजा मामला गया जिले के बोधगया का है। मस्तपुरा स्थित प्रज्ना ज्योति बुद्धिस्ट नोविस स्कूल एंड मेडिटेशन सेंटर के संचालक भंते सुजॉय उर्फ संघप्रिय भंते के द्वारा संस्था में पढ़ने के लिए आए बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप है। पुलिस ने सेंटर के संचालक एक बौद्ध भिक्षु को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार यह घटना बोधगया के मस्तपुरा में स्थित प्रजन्ना ज्योति बुद्धिस्ट नोविस स्कूल एंड मेडिटेशन सेंटर की है। यहां के संचालक भन्ते सुजॉय उर्फ संघप्रिय भन्ते के द्वारा संस्था में पढ़ने के लिए आए बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप लगा है। बच्चों ने इसकी सूचना जब अपने परिजनों को दी तब जाकर पूरे मामले का खुलासा हुआ है।

वहीं, इस घटना को लेकर गुरुवार को इंटरनेशनल बुद्धिस्ट काउंसिल ने बीटीएमसी ने आपात बैठक की। जिसमें सभी ने घटना की निंदा की। महासचिव भंते प्रज्ञा दीप ने कहा कि आरोपी भिक्षु आईबीसी का सदस्य नही है। वह स्वतंत्र रूप से संस्था चला रहा था।

परिजनों के अनुसार बच्चों की शिकायत पर वे आनन-फानन में बोधगया पहुंचे। यहां आकर जब उन्होंने मामले की जानकारी लेनी चाही तो आरोपी भिक्षु के द्वारा सभी 15 पीड़ित बच्चों को संस्था से बाहर निकाल दिया गया। आरोप है कि संस्था से निकालते वक्त बच्चों को कपडे़ भी नहीं दिए गए। किसी प्रकार बच्चों के परिजन सभी को लेकर गया के विष्णुपद थाना क्षेत्र के असम भवन में पहुंचे। इसके बाद घटना की शिकायत पुलिस के आलाधिकारियों से की गई।

बोधगया। मुजफ्फरपुर बालिका गृह और पटना स्थित आसरा हाउस का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि बिहार में एक ताजा मामला गया जिले के बोधगया का है। मस्तपुरा स्थित प्रज्ना ज्योति बुद्धिस्ट नोविस स्कूल एंड मेडिटेशन सेंटर के संचालक भंते सुजॉय उर्फ संघप्रिय भंते के द्वारा संस्था में पढ़ने के लिए आए बच्चों के साथ अप्राकृतिक यौनाचार का आरोप है। पुलिस ने सेंटर के संचालक एक बौद्ध भिक्षु को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार यह घटना…