गाजीपुर: बलि का बकरा बना पीडब्ल्यूडी का जेई, लगायी जान बचाने की गुहार

gazipur pwd je
गाजीपुर
गाजीपुर। योगी सरकार में जिले में कानून व्यवस्था चरमरा गयी है। 24 घंटे में दो हत्याओं के बाद दबंग ठेकेदार ने मोबाइल पर जेई को जान मारने की धमकी देते हुए काम करने का फरमान जारी कर दिया है। इस घटना से पीडब्ल्यूडी के कर्मचारियों में जबरदस्त आक्रोश है। शुक्रवार को अवर अभियंता संदीप कुमार ने कोतवाली में यह तहरीर दिया है कि मेसर्स विनोद कुमार राय, ठेकेदार बड़ीबाग लंका गाजीपुर के प्रतिनिधि मनोज कुमार राय पुत्र रामदेव राय निवासी…

गाजीपुर। योगी सरकार में जिले में कानून व्यवस्था चरमरा गयी है। 24 घंटे में दो हत्याओं के बाद दबंग ठेकेदार ने मोबाइल पर जेई को जान मारने की धमकी देते हुए काम करने का फरमान जारी कर दिया है। इस घटना से पीडब्ल्यूडी के कर्मचारियों में जबरदस्त आक्रोश है।

शुक्रवार को अवर अभियंता संदीप कुमार ने कोतवाली में यह तहरीर दिया है कि मेसर्स विनोद कुमार राय, ठेकेदार बड़ीबाग लंका गाजीपुर के प्रतिनिधि मनोज कुमार राय पुत्र रामदेव राय निवासी रेवतीपुर गाजीपुर द्वारा मोबाइल पर भुगतान के लिए भद्दी-भद्दी गालियां दिये और मनोज राय ने धमकी देते हुए कहा कि आज शाम तक तुम मेरा बिल नही बनाते हो तो बस तुम्हारे पास दो ही रास्ते हैं या तो तुम नौकरी करोगे या अपने जान से जाओगे। इस खबर से पूरे विभाग में हड़कंप मच गया। जेई संघ पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा से मिलकर पूरी घटना की जानकारी दी। मोबाइल आडियो का टेप भी एसपी को सुनाया। इसपर एसपी ने जांच के लिए सीओ सिटी हृदयानंद सिंह को आदेश दिया है।

{ यह भी पढ़ें:- हफ्ते भर मस्ती के बाद पुलिस देख किशोरी ने आशिक को बताया 'बलात्कारी' }

इस मौके पर जेई संघ के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र प्रताप यादव, सुभाष चंद्र, शहनवाज अहमद, राजेश यादव, संदीप कन्नौजिया, संतलाल यादव आदि लोग मौजूद थें।ज्ञात हो कि बिनोद राय रेल व संचार मंत्री मनोज सिन्हा के करीबी है। जबकि कुछ दिनो से कतिपय कारणो से मनोज राय से अनबन भी चल रही है।

राकेश पाण्डेय की रिपोर्ट

{ यह भी पढ़ें:- दंतेवाडा नक्सली हमले में गाजीपुर का जवान अर्जुन शहीद }

Loading...