गाजीपुर: 12 लाख गबन मे निलंबित सचिव ने फिर हड़पे 22 लाख

gazipur fraud
गाजीपुर

Gazipur Nilambit Sachiv Ne Hadpe 22 Lakh

गाजीपुर। निलंबित ग्राम पंचायत अधिका‍री द्वारा ग्राम प्रधानो से मिली भगत कर ग्राम पंचायतो के खाते से लगभग 22 लाख रूपये गबन करने का मामला प्रकाश में आया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राधेश्याम यादव भदौरा ब्लाक के अंर्तगत ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर तैनात थे। जिनको जिला पंचायत राज्य अधिकारी ने मरदह ब्ला‍क के डंडापुर ग्राम में वर्ष 2014-15 के शौचालय निर्माण में 12 लाख रूपये गबन करने के आरोप में 6 अप्रैल 2018 निलंबित कर दिया।

भदौरा ब्लाक कार्यालय ने निलंबन पत्र राधेश्याम यादव को 11 अप्रैल को रिसिव करा दिया। 6 अप्रैल से 11 अप्रैल के बीच में ग्राम पंचायत अधिकारी राधेश्याम यादव विभिन्न ग्राम पंचायत के निधि से लगभग 21 लाख 50 हजार 770 रूपये की निकासी कर ली।

इसी क्रम में गोडसरा ग्राम पंचायत निधि यूनियन बैंक भदौरा खाता नं. 601002010005974 से ग्राम प्रधान से साजिश कर विभिन्न मदो में 2 लाख 50 हजार रूपये निकासी कर ली। इस बात की शिकायत गोड़सरा गांव के जागरूक नागरिक मो. राशिद खां ने शासन और प्रशासन से की है।

अब देखना है कि भ्रष्टाचार मुक्त विकास कार्य का नारा देने वाली योगी सरकार इस दबंग ग्राम पंचायत अधिकारी के खिलाफ क्या निर्णय लेती है।

रिपोर्ट- राकेश पांडे

गाजीपुर। निलंबित ग्राम पंचायत अधिका‍री द्वारा ग्राम प्रधानो से मिली भगत कर ग्राम पंचायतो के खाते से लगभग 22 लाख रूपये गबन करने का मामला प्रकाश में आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार राधेश्याम यादव भदौरा ब्लाक के अंर्तगत ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर तैनात थे। जिनको जिला पंचायत राज्य अधिकारी ने मरदह ब्ला‍क के डंडापुर ग्राम में वर्ष 2014-15 के शौचालय निर्माण में 12 लाख रूपये गबन करने के आरोप में 6 अप्रैल 2018 निलंबित कर दिया। भदौरा…