1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Rajasthan में ऐसी होगी गहलोत सरकार,’एक आदमी एक पद’ फॉर्मूला नई कैबिनेट पर होगा लागू

Rajasthan में ऐसी होगी गहलोत सरकार,’एक आदमी एक पद’ फॉर्मूला नई कैबिनेट पर होगा लागू

राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को होने वाले कैबिनेट विस्तार में 12 नए चेहरों को शामिल किया जाना तय है। इनमें सचिन पायलट (Sachin Pilot) कैंप के पांच चेहरे भी शामिल किए जाएंगे। यह जानकारी सूत्रों ने दी है। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) ने राजस्थान कैबिनेट (Rajasthan Cabinet) के सभी 21 सदस्यों के इस्तीफा देने के बाद तीन कैबिनेट मंत्रियों- रघु शर्मा, हरीश चौधरी और गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। बता दें कि राजस्थान में 'एक आदमी एक पद' फॉर्मूला के तहत नया कैबिनेट विस्तार हो रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan) में रविवार को होने वाले कैबिनेट विस्तार में 12 नए चेहरों को शामिल किया जाना तय है। इनमें सचिन पायलट (Sachin Pilot) कैंप के पांच चेहरे भी शामिल किए जाएंगे। यह जानकारी सूत्रों ने दी है। सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) ने राजस्थान कैबिनेट (Rajasthan Cabinet) के सभी 21 सदस्यों के इस्तीफा देने के बाद तीन कैबिनेट मंत्रियों- रघु शर्मा, हरीश चौधरी और गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। बता दें कि राजस्थान (Rajasthan) में ‘एक आदमी एक पद’ फॉर्मूला के तहत नया कैबिनेट विस्तार हो रहा है।

पढ़ें :- कोरोना का खतरा फिर बढ़ा! एक ही स्कूल के 11 बच्चों के संक्रमित मिलने के बाद हड़कंप

रघु शर्मा जहां गुजरात के लिए अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रभारी, हरीश चौधरी पंजाब के प्रभारी और डोटासरा राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख हैं। अशोक गहलोत नीत कांग्रेस सरकार में कुल 30 मंत्री होंगे। इसमें पहले इस्तीफा दे चुके 18 मंत्री भी होंगे। सूत्रों के अनुसार, तीन राज्य मंत्रियों को कैबिनेट में शामिल किया जा रहा है।

इस कैबिनेट विस्तार में जातीय समीकरणों को पूरा ध्यान में रखा गया है। सूत्रों ने कहा कि अनुसूचित जाति से आने वाले राज्य के तीन मंत्रियों को कैबिनेट रैंक में पदोन्नत किया गया है। नए कैबिनेट में ऐसा पहली बार होगा, जब राजस्थान के नए कैबिनेट में चार सदस्य अनुसूचित जाति समुदाय से होंगे। पंजाब में दलित मुख्यमंत्री नियुक्त करने के बाद कांग्रेस का यह अगला दांव है। इतना ही नहीं, अनुसूचित जनजाति से भी तीन मंत्री होंगे। इसके अलावा, इस कैबिनेट में तीन महिलाएं और एक मुस्लिम सदस्य होगा।

आज शाम को कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ लेने वाले नए मंत्रियों में हेमाराम चौधरी, महेंद्रजीत सिंह मालवीय , रामलाल जाट, महेश जोशी, विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीना, ममता भूपेश बरवा, भजनलाल जाटव, टिकाराम जुली, गोविंद राम मेघवाल और शकुंतला रावत का नाम है। वहीं राज्य मंत्री के रूप में शपथ लेने वालों में जाहिदा, बृजेंद्र सिंह ओला , राजेंद्र दुरहा और मुरली लाल मीना हैं।

पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि सचिन पायलट खेमे के जिन लोगों को राजस्थान मंत्रिमंडल में में शामिल किया जाएगा, उनमें कैबिनेट मंत्री के तौर पर विश्वेंद्र सिंह, रमेश मीणा और हेमाराम चौधरी होंगे, वहीं राज्य मंत्री के तौर पर बृजेंद्र ओला और मुरारी मीणा होंगे। बता दें कि विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को पिछले साल राजनीतिक संकट के दौरान कैबिनेट मंत्री के पद से बर्खास्त कर दिया गया था।

पढ़ें :- राजस्थान में अब कोई गुट नहीं , कांग्रेस 2023 में दोबारा सत्ता में करेगी वापसी : Sachin Pilot

अनुसूचित जाति के जिन तीन मंत्रियों को कैबिनेट रैंक में प्रमोशन मिलने वाला है, वे हैं भजनलाल जाटव, ममता भूपेश भैरवा और टीकाराम जूली। अन्य अनुसूचित जाति के सदस्य राम मेघवाल भी नए कैबिनेट में शामिल होंगे। राजस्थान कैबिनेट में राम मेघवाल की एंट्री, पूरी तरह से नया चेहरा होगा। इतना ही नहीं, हाल ही में कांग्रेस का हाथ थामने वाले बसपा के पूर्व विधायक राजिंदर गुडा भी मंत्रिमंडल में शामिल किए जाएंगे।

सूत्रों की मानें तो इस कैबिनेट में एक भी निर्दलीय विधायक को जगह नहीं मिलने वाली है। डोटासरा के मुताबिक, राजस्थान में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में फेरबदल के तहत 15 विधायकों को मंत्री आज पद की शपथ दिलाई जाएगी। इसमें 11 कैबिनेट और चार राज्य मंत्री होंगे। शपथ ग्रहण समारोह रविवार शाम चार बजे राजभवन में होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...