1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. शिक्षा माफियाओं से लखनऊ क्रिश्चियन व सेन्टीनियल इण्टर कालेज को मुक्त कराओ अभियान का बजा बिगुल

शिक्षा माफियाओं से लखनऊ क्रिश्चियन व सेन्टीनियल इण्टर कालेज को मुक्त कराओ अभियान का बजा बिगुल

लखनऊ क्रिश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज की लगभग 30 हजार करोड़ की सम्पत्ति पर कब्जा करने वाले शिक्षा माफियाओं के विरुद्ध दर्ज प्राथमिक सूचना रिर्पोटों (एफआईआर) दर्ज है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर मण्डलायुक्त लखनऊ द्वारा संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ मण्डल की अध्यक्षता में गठित तीन सदस्यीय समिति से करायी गई जांच की रिर्पोट पर तत्काल प्रभावी कार्यवाही की जाए।

By संतोष सिंह 
Updated Date

शहीद स्मारक स्थल से मण्डलायुक्त, लखनऊ कार्यालय तक शान्ति मार्च 21 अप्रैल को

पढ़ें :- महराजगंज:सर्वा माता का दर्शन कर ब्लाक प्रमुख ने मंदिर के कायाकल्प का ली शपथ

लखनऊ। लखनऊ क्रिश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज की लगभग 30 हजार करोड़ की सम्पत्ति पर कब्जा करने वाले शिक्षा माफियाओं के विरुद्ध दर्ज प्राथमिक सूचना रिर्पोटों (एफआईआर) दर्ज है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर मण्डलायुक्त लखनऊ द्वारा संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ मण्डल की अध्यक्षता में गठित तीन सदस्यीय समिति से करायी गई जांच की रिर्पोट पर तत्काल प्रभावी कार्रवाई की जाए। इन मांगों को लेकर ‘शिक्षा माफियाओं से लखनऊ क्रिश्चियन कालेज व सेन्टीनियल इण्टर कालेज मुक्त कराओ अभियान‘ के पहले चरण में 21 अप्रैल को शुरू होगा। इसमें लखनऊ किश्चियन कालेज व सेन्टीनियल इण्टर कालेज के शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मी, जिला संगठन के पदाधिकारी संयुक्त रूप से शहीद स्मारक स्थल से मण्डलायुक्त कार्यालय तक सायं 04.30 बजे शान्ति मार्च निकालेंगे।

यह जानकारी माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय मंत्री व प्रवक्ता डॉ. आरपी मिश्र ने जिला संगठन के कार्यालय उदयाचल (क्वींस कालेज कैम्पस) वाला कदर रोड, लखनऊ में रविवार को आयोजित प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश में माफियाओं पर बुल्डोजर चलाया जा रहा है, किन्तु आश्चर्य है कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित लखनऊ किश्चियन कालेज व सेन्टीनियल इण्टर कालेज की लगभग लगभग 30 हजार करोड़ की सम्पत्ति पर शिक्षा माफियाओं और डिप्टी रजिस्ट्रार चिट्स फण्ड एण्ड सोसाइटीज की सांठ-गांठ से फर्जीवाड़ा कर कब्जा कर लिया गया है। किन्तु उस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

शिक्षा माफियाओं का प्रभाव इतना है कि पुलिस में लगभग 09 माह पूर्व एफआईआर दर्ज होने। इसके अलावा लगभग 06 माह पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा मण्डलायुक्त, लखनऊ को दिए गए निर्देश के बावजूद शासन/विभाग स्तर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इतना ही नहीं किश्चियन कालेज में विद्यालय व शासन द्वारा बर्खास्त फर्जी प्रधानाचार्य रोहित स्प्रिंग द्वारा छात्रों से हजारों रूपये की अवैध फीस की वसूली की शिकायतों पर भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। इसके अलावा विद्यालय के शिक्षकों व कर्मचारियों को नियमानुसार पूर्ण वेतन व वेतनवृद्धि आदि का लगभग 09 माह से भुगतान नहीं किया जा रहा है। जिससे बाध्य होकर जिला संगठन चरणबद्ध आन्दोलन के लिए विवश है।

शिक्षक नेताओं ने बताया कि शिक्षा माफियाओं एवं डिप्टी रजिस्ट्रार चिटस फण्ड एवं सोसाइटीज, विनय कुमार श्रीवास्तव की सांठ-गांठ से फर्जी अभिलेखों के आधार पर लालबाग गर्ल्स इण्टर कालेज की प्रधानाचार्या अर्णिमा रिसाल सिंह को लखनऊ किश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज का प्रबन्धक बना दिया गया जिसे जिला विद्यालय निरीक्षक ने मान्य नहीं किया। इसके बावजूद तथाकथित प्रबन्धक अर्णिमा रिसाल सिंह और उनके साथ गुण्डे और माफियाओं ने दिन दहाडे़ विधिक प्रबन्धक प्रो. आरआर लायल के कमरें का ताला तोडकर महत्वपूर्ण अभिलेख उठा ले गए और विद्यालय में कब्जा कर लिया जिसके विरूद्व विद्यालय के विधिक प्रबन्धक प्रो. आरआर लायल ने चार अगस्त 2021 को वजीरगंज थाने में धारा 395 डकैती की रिपोर्ट सं0 251 दर्ज कराई लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई।

पढ़ें :- Budget 2023: सीएम योगी बोले-बजट से UP की जनता लाभान्वित होने जा रही

दूसरी एफआईआर – तथाकथित प्रबन्धक अर्णिमा रिसाल सिंह एवं शिक्षा माफियाओं ने सेन्टीनियल इण्टर कालेज, जो यूपी बोर्ड से मान्यता प्राप्त है। मान्यता के समय सम्पूर्ण भूमि, खेल का मैदान एवं भवन माध्यमिक शिक्षा परिषद में बन्धक है, पर जबरिया कब्जा कर उससे अनियमित रूप से बिना मान्यता के मैथाडिस्ट हाई स्कूल खोल दिया। खेल के मैदान में व्यवसायिक उपयोग के लिए निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। इसके विरूद्ध विद्यालय के विधिक प्रबन्धक प्रो. आरआर लायल ने 29 मार्च, 2022 को थाना वजीरगंज में धारा 420,467,468,471, 447,427 एवं 120 बी के अन्तगर्त एफआईआर सं0 0078 दर्ज कराई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

तीसरी एफआईआर – विद्यालय के वरिष्ठ प्रवक्ता आजाद मसीह ने 25 सितंबर 2021 को वजीरगंज थाने में धारा 147,504,506,427,332,353 एवं 452 में एफआईआर सं0 0313 दर्ज कराई लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

चौथी एफआईआर – विद्यालय के प्रबन्धक प्रो. आरआर लायल ने 23 मार्च 2017 को रोहित स्प्रिंग के विरूद्व थाना वजीरगंज में एफआईआर0सं0 0199 की धारा 409 में दर्ज कराई, अभी तक कोई कार्रवाई नहीं ।

पांचवी एफआईआर – लखनऊ क्रिश्चियन डिग्री के कार्यवाहक प्रधानाचार्य डा. एल्विन दाउद ने 13 जुलाई 2021 को वजीरगंज थाने में धारा 419,420,467,468 एवं 471 में एफ0आई0आर0 सं0 0216 दर्ज कराई किन्तु कोई कार्रवाई नहीं हुई।

छठी एफआईआर – लखनऊ क्रिश्चियन कालेज की प्रबन्ध समिति के सदस्य माइकल पाल ने कैसरबाग थाने में 18 जनवरी 2022 को धारा 418,468 एवं 489 में एफआईआर सं0 016 दर्ज कराई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।

पढ़ें :- शिअद व BSP गठबंधन भरोसेमन्द, मायावती बोलीं-BJP की जुगाड़ वाली निगेटिव राजनीति भी लोगों को नापसंद

शिक्षक नेताओं ने बताया कि जिला संगठन एवं विद्यालय के विधिक प्रबन्धक के ज्ञापनों का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने मण्डलायुक्त, लखनऊ को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए थे। मण्डलायुक्त लखनऊ ने 14 अक्टूबर, 2021 को संयुक्त शिक्षा निदेशक, लखनऊ मण्डल की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच समिति गठित कर दो दिवसों में आख्या मांगी थी किन्तु संयुक्त शिक्षा निदेशक ने लगभग 05 माह में मण्डलायुक्त को जांच रिपोर्ट प्रेषित की । लगभग एक माह से अधिक समय बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

विद्यालय एवं शासन द्वारा बर्खास्त फर्जी प्रधानाचार्य रोहित स्प्रिंग के द्वारा क्रिश्चियन कालेज के छात्रों से 3000 रुपये की अवैध वसूली की जा रही है। छात्रों द्वारा मुख्यमंत्री पोर्टल एवं जिला विद्यालय निरीक्षक को अवगत कराये जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

लखनऊ क्रिश्चियन कालेज एवं सेन्टीनियल इण्टर कालेज के शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचरियों को जून माह का जुलाई से अब तक जून माह के बराबर ही वेतन का भुगतान किया जा रहा है। जब कि 01 जुलाई, 2021 से बढ़ा हुआ 14 प्रतिशत डीए तथा पहली जुलाई, 2021 से वेतन वृद्वि आदि का भुगतान नही हो पा रहा है। विद्यालयों में शिक्षा माफियाओं के कब्जे के कारण विधिवत विद्यालयों का संचालन भी गत जुलाई माह से अवरूद्ध है।

विद्यालय के शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों व जिला संगठन द्वारा जिला विद्यालय निरीक्षक एवं अन्य उच्चधिकारियों को 14 फरवरी, 2022 को पूर्ण वेतन का भुगतान 01 जुलाई, 2021 से वेतन वृद्वि एवं अन्य मागों से युक्त ज्ञापन प्रेषित किए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

आज की प्रेस वार्ता में जिलाध्यक्ष डॉ. आरके त्रिवेदी, प्रदेशीय मंत्री नरेन्द्र कुमार वर्मा, जिला मंत्री महेश चन्द्र, सलाहाकार मण्डल को संयोजक चन्द्र प्रकाश शुक्ल, संघर्ष समिति के संयोजक इनायत उल्लाह खां, संरक्षण समिति के संयोजक इन्द्र प्रकाश श्रीवास्तव, समन्वय समिति के संयोजक अनिल शर्मा, राज्य परिषद सदस्य अरूण कुमार अवस्थी, कोषाध्यक्ष विश्वजीत सिंह आय-व्यय निरीक्षक मीता श्रीवास्तव, क्षेत्रीय प्रभारी डा0 सुशील त्रिपाठी, लखनऊ क्रिश्चियन इण्टर कालेज के आजाद मसीह, सुमित अजय दास, आशीष मून पंत, आजाद मसीह नाथ, सेन्टीनियल इण्टर कालेज के स्वप्निल वाटसन, क्रिश्चियन कालेज ऑफ फिजिकल एजूकेशन के प्राचार्य जेजे जोजफ आदि उपस्थित थे।

 

पढ़ें :- प्रेमी संग फरार हुई मुस्लिम लड़की का वीडियो वायरल, अगर हमें अलग किया तो दे देंगे जान...

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...