घर में शौचालय न होने से क्षुब्ध युवक ने किया आत्मदाह !

Ghar Me Toilet Na Hone Se Preshan Yuwak Ne Ki Sucide

मेरठ। सरकार जहां एक तरफ स्वच्छ भारत मिशन की मुहिम को तेज़ करने में जोरों-शोरों से जुटी हुई है वहीं आज भी भारत में लाखों लोग ऐसे घरों में गुजर-बसर करते है जहां शौच तक की व्यवस्था नहीं है। जिस वजह से उन्हें खुले में शौच जाने के लिए शर्मिंदा होना पड़ता है। गांवों में बसने वाले देश में लाखों लोग घरो में शौचालय न होने की वजह से बेहाली की ज़िंदगी जी रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मेरठ से सामने आया है। जहां एक व्यक्ति ने घर में शौचालय न होने की वजह से नाराज़ होकर आत्मदाह करने की कोशिश की। युवक को किसी तरह बचाया गया। युवक का आरोप है कि गांव का प्रधान जान बूझकर उसका टॉयलेट नही बनवा रहा है।



मामला मेरठ के रजपुरा ब्लॉक के नंगला शेखू का हैं। यहाँ का निवासी मोहम्मद शान का आरोप है कि उसने अपनी पत्नी के नाम से शौचालय बनवाने का आवेदन कर रखा है, पर फिर भी ग्राम प्रधान प्रदीप जानबूझ कर उसका शौचालय नही बनवा रहा है। इस बात से नाराज़ होकर मोहम्मद शान एक चौराहे कर खुद पर कैरोसीन डाल कर खुद को आग लगा ली। जिससे वहाँ भगदड़ मच गयी। लोग उसकी तरफ आग बुझाने पहुंचे, किसी तरह लोगो ने युवक के कपड़ो में लगी आग को बुझाया।




सूचना मिलने पर पहुची पुलिस पीड़ित को अपने साथ थाने ले गयी। युवक को आश्वासन दिया गया कि उसकी शिकायत की जांच पड़ताल की जाएगी, और उसके आवेदन के अनुसार शौचालय का निर्माण नियमानुसार कराया जाएगा।

मेरठ। सरकार जहां एक तरफ स्वच्छ भारत मिशन की मुहिम को तेज़ करने में जोरों-शोरों से जुटी हुई है वहीं आज भी भारत में लाखों लोग ऐसे घरों में गुजर-बसर करते है जहां शौच तक की व्यवस्था नहीं है। जिस वजह से उन्हें खुले में शौच जाने के लिए शर्मिंदा होना पड़ता है। गांवों में बसने वाले देश में लाखों लोग घरो में शौचालय न होने की वजह से बेहाली की ज़िंदगी जी रहे हैं। ऐसा ही एक मामला मेरठ…