1. हिन्दी समाचार
  2. सब्जी की दुकानों से लेकर पेट्रोपंप तक हो रही घटतौली, आपकी जेब पर पड़ रहा है डांका

सब्जी की दुकानों से लेकर पेट्रोपंप तक हो रही घटतौली, आपकी जेब पर पड़ रहा है डांका

Ghatauli Happening From Vegetable Shops To Petropump Stings Are Falling On Your Pocket

By सोने लाल 
Updated Date

लखनऊ। इण्डिया सावधान, इलेक्ट्रॉनिक तौल मशीनों पर माप तौल करने से पहले सावधान हो जाएं कहीं आपके साथ तो नहीं हो रही घटतौली। बता दें कि एसटीएफ की पड़ताल के बाद तपा चला है कि इलेक्ट्रॉनिक माप तौल की मशीनों के साथ एक चीप लगकर आ रही है, जिसे रिमोट या हिडेन बटन के ​जरिये कंट्रोल कर बड़े स्तर पर घटतौली का खेल खेला जा रहा है। तकरीबन ढाई वर्ष पूर्व एसटीएफ ने पेट्रोल पंपों पर पर चिप के खेल से पर्दा उठाया था।

पढ़ें :- कभी भाजपा में बोलती थी जसवंत सिंह की तूती, अटल बिहारी वाजपेयी के करीबियों में होती थी गिनती

गाढ़ी कमाई पर पड़ रहा है डाका

अब इलेक्ट्रॉनिक तौल मशीनों के जरिए से घटतौली का खेल आम जनता और गरीब लोगों की गाढ़ी कमाई पर डाका डाल रहा है। बांट-माप विभाग सिर्फ मु​हर लगाकर खानापूर्ति में ही जुटा है। एसटीएफ के एएसपी विशाल विक्रम सिंह ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक तराजू के साथ में ही चिप लगकर आ रही हैं, जिनके जरिये से आम जनता को लूटा जा रहा है। और जिन कंपनियों से ये मशीनें बन रहीं हैं, वे भी रडार पर हैं।

जाने कैसे होती है घटतौली

एसटीएफ की पड़ताल में सामने आया है कि घटतौली करने वाले लोग पहले से ही रिमोट व हिडेन बटन के जरिये उसे एक्चुअल व टेम्पर्ड मोड पर लगा देते हैं। फिर ग्राहक को मशीन पर 100 किलो का बांट रखकर उसका सामना तौल विश्वास में लेते हैं। इसके बाद तौलाई के समय जेब में रखे रिमोट के जरिये मशीन टेम्पर्ड मोड पर लगा देते हैं। इसके बाद रिमोट से ही प्रत्येक 100 किलो के सामान को 90 या 95 किलो पर सेट करके घटतौली के खेल को अंजाम देते हैं।

संदिग्ध गतिविधि देख दें सूचना, ऐसे रहें सावधान-इलेक्ट्रॉनिक तराजू पर तौलाई के समय कोई भी संदिग्ध गतिविधि देख उसे वाच करें। शक होने पर तुरंत पुलिस या बांट-माप विभाग को सूचना दें। इलेक्ट्रॉनिक तराजू पर तौलाई के पहले और बाद में क्रॉस चेक जरूर करें।

पढ़ें :- पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, लंबे समय से चल रहे थे बीमार

ऐसी मशीनों पर लगनी चाहिए रोक-एएसपी एसटीएफ विशाल विक्रम सिंह ने इलेक्ट्रॉनिक वेइंग मशीन की पड़ताल के बाद कई प्रमुख बातों से पर्दा उठाया। बताया कि इसमें चिप और हिडेन बटन ऐसे इनबिल्ट होती है कि कोई अच्छे-अच्छे जानकर लोग इसे नहीं पकड़ सकते। गांवों में घटतौली का खेल ज्यादा हो रहा है। पब्लिक के सामने ही उसे इसकदर ठगा जा रहा कि वह सोच भी नहीं सकता।

यहां बरतें विशेष सावधानी-धर्मकांटों, लोहे, गल्ला मंडियों व किराने की दुकानों पर सामान की तौलाई कराते समय विशेष सावधानी बरतें। यहां बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रॉनिक वेइंग मशीनों पर बड़े स्तर पर घटतौली का खेल चल रहा है। बहुत लोग इस धंधे में लगे हैं। पांच लोगों की गिरफ्तारी कर एसटीएफ ने अभी शुरुआत की है, अभी कई लोग बेनकाब होंगे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...