सुसाइड नोट लिखकर नाबालिग छात्रा ने खुद को किया आग के हवाले

banda suicide, सुसाइड , farmer
सुसाइड नोट लिखकर नाबालिग छात्रा ने खुद को किया आग के हवाले

बलिया। प्रदेश सरकार सूबे में महिलाओ के पूरी तरह सुरक्षित होने का चाहे जितना राग अलापे लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है। महिला सुरक्षा के लिए भले ही तमाम योजनाएं चल रही हों लेकिन इनका असर होता नहीं दिख रहा है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए ‘वीमेन पॉवर लाइन 1090’, महिला हेल्पलाइन 181, एंटी रोमियो स्क्वॉड के अलावा यूपी पुलिस भी महिला अपराध रोकने में नाकाम साबित हो रही है। इसकी नजीर बुधवार शाम बलिया जिले में देखने को मिली। यहां एक गांव में रहने वाले कुछ युवको ने आठवीं की एक छात्रा के साथ छेड़छाड़ की। पीड़िता ने इसकी सूचना पुलिस को दी लेकिन पुलिस ने मामले में कार्रवाई करने के बजाय हाथ पर हाथ रखकर बैठ गई।

उधर, इससे आरोपियों के हौसले और बुलंद हो गए और वो पीड़िता को धमकाने लगे। इससे आहत होकर पीड़िता ने खुद को आग के हवाले कर दिया। ये सनसनीखेज घटना भीमपुरा थाना क्षेत्र के हनुमान चट्टी कसेसर गांव में हुई। यहां गांव में मंगरु अपने परिवार के साथ रहता है। उसकी 15 वर्षीय बेटी सोनम उर्फ गोल्डी कक्षा 8 की छात्रा थी। पिछले महीने उसके साथ गांव के ही लड़कों ने छेड़छाड़ की थी लेकिन शिकायत के बाद भी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इससे शोहदों के हौसले बुलंद हो गए और वह छात्रा से आये दिन छेड़छाड़ कर रहे थे। इससे छात्रा मानसिक रूप से मानसिक रूप से परेशान हो गई थी।

{ यह भी पढ़ें:- गैंगरेप व आत्महत्या की घटना के बाद सीएम ने संभल व प्रतापगढ़ एसपी को ​किया निलंबित }

बताया जा रहा है कि युवती बुधवार शाम करीब 4:00 बजे घर में अकेले थी इस दौरान उसने अपने ऊपर तेल डालकर आग लगा ली। आग की लिपटों में घिरी लड़की अपनी जान बचाने के लिए उसकी मां दौड़ी। घरवालों ने उसे फौरन गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। सुसाइड नोट में छात्रा ने लिखा है कि चंदन को छोड़कर बाकी सभी को सजा मिलनी चाहिए। परिजनों ने पुलिस पर गंभीर लापरवाही का आरोप लगाया है। एएसपी विजय पाल सिंह ने जल्द ही अपराधियों को पकड़ने के निर्देश दिए हैं। फिलहाल छात्रा द्वारा आत्मदाह किये जाने की घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल है।

{ यह भी पढ़ें:- गांव के बाहर लटका मिला प्रेमी युगल का शव, ऑनर किलिंग की आशंका }

बलिया। प्रदेश सरकार सूबे में महिलाओ के पूरी तरह सुरक्षित होने का चाहे जितना राग अलापे लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है। महिला सुरक्षा के लिए भले ही तमाम योजनाएं चल रही हों लेकिन इनका असर होता नहीं दिख रहा है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए ‘वीमेन पॉवर लाइन 1090’, महिला हेल्पलाइन 181, एंटी रोमियो स्क्वॉड के अलावा यूपी पुलिस भी महिला अपराध रोकने में नाकाम साबित हो रही है। इसकी नजीर बुधवार शाम बलिया जिले में देखने को…
Loading...