1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Goa Election 2022: गोवा में BJP को लगा फिर बड़ा झटका, चुनाव से ठीक पहले एक और विधायक ने छोड़ी पार्टी

Goa Election 2022: गोवा में BJP को लगा फिर बड़ा झटका, चुनाव से ठीक पहले एक और विधायक ने छोड़ी पार्टी

Goa Election 2022: गोवा विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ती जा रही है। सत्ताधारी पार्टी भाजपा (BJP) को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं। बीते 24 घंटे में भाजपा (BJP) को दूसरा बड़ा झटका विधायक प्रवीण झांते (MLA Praveen Jhante) के रूप में लगा है। उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Goa Election 2022: गोवा विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ती जा रही है। सत्ताधारी पार्टी भाजपा (BJP) को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं। बीते 24 घंटे में भाजपा (BJP) को दूसरा बड़ा झटका विधायक प्रवीण झांते (MLA Praveen Jhante) के रूप में लगा है। उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है।

पढ़ें :- प्रो. पीके मिश्रा का इस्तीफा, तो विनय पाठक पर गंभीर आरोपों के बाद राजभवन की 'मेहरबानी' का क्या है 'राज'?

बताया जा रहा है कि भाजपा (BJP) छोड़ने के बाद वो जल्द ही महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी को ज्वॉइन कर सकते हैं। मायेम सीट से विधायक प्रवीण  (MLA Praveen Jhante) ऐसे दूसरे नेता हैं, जिन्होंने भाजपा को छोड़ा है। इससे पहले गोवा सरकार में मंत्री रहे माइकल लोबो (Michael Lobo) ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया। बता दें कि, प्रवीण के पिता कांग्रेस से सांसद भी रह चुके हैं।

2012 में कांग्रेसे से प्रवीण को टिकट नहीं मिलने के कारण उन्होंने पार्टी को छोड़ दिया था। इसके बाद 2012 के चुनाव में निर्दलीय ही चुनावी मैदान में उतरे थे और 2017 में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता हासिल कर ली। भाजपा में शामिल होने के बाद उन्होंने अब चुनाव से पहले 2022 में अपने पद से इस्तीफा देते हुए पार्टी से अलविदा कह दिया।

पहले जैसे नहीं रही भाजपा
भाजपा (BJP) से अलविदा बोलने के बाद प्रवीण ने कहा कि ये पार्टी अब पहले जैसे नहीं रह गई है। मैं पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर जी के कहने पर पार्टी में आया था। उनके समय पार्टी कुछ और थी लेकिन अब ऐसा नहीं रहा। उन्होंने आरोप लगाया कि अब भाजपा युवाओं को रोजगार देने के मामले में फेल साबित हुई हुई है।

पढ़ें :- Parliament Live : पीएम मोदी, बोले- '2004 से 14 तक घोटालों का दशक, UPA ने मौकों को मुसीबत में पलटा'
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...