1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Godhra kand : मुख्य आरोपी Haji Bilal की मौत, साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन जलाने के मामले में मिली थी उम्रकैद

Godhra kand : मुख्य आरोपी Haji Bilal की मौत, साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन जलाने के मामले में मिली थी उम्रकैद

गुजरात के गोधरा कांड (Godhra kand) के मुख्य आरोपी हाजी बिलाल (Haji Bilal) की शुक्रवार को मौत हो गई है। बता दें कि चार साल से उसकी तबीयत खराब चल रही थी। हाजी बिलाल (Haji Bilal)  को गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन (Sabarmati Express Train) को जलाने के मामले में उम्रकैद की सजा मिली थी।हाजी बिलाल (Godhra kand) की तबीयत खराब चल रही थी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बता दें कि गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन (Sabarmati Express Train) को जलाने के मामले में उसे उम्रकैद मिली थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

 

पढ़ें :- Corona New Variant: सावधान रहिए! तेजी से पांव पसार रहा है ओमिक्रॉन, महाराष्ट्र में फिर मिले 10 संक्रमित

गुजरात। गुजरात के गोधरा कांड (Godhra kand) के मुख्य आरोपी हाजी बिलाल (Haji Bilal) की शुक्रवार को मौत हो गई है। बता दें कि चार साल से उसकी तबीयत खराब चल रही थी। हाजी बिलाल (Haji Bilal)  को गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन (Sabarmati Express Train) को जलाने के मामले में उम्रकैद की सजा मिली थी।

हाजी बिलाल (Godhra kand) की तबीयत खराब चल रही थी, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बता दें कि गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन (Sabarmati Express Train) को जलाने के मामले में उसे उम्रकैद मिली थी। वडोदरा सेंट्रल जेल (Vadodara Central Jail) में वह सजा काट रहा था।

बता दें कि हाजी बिलाल (Haji Bilal)  की बीते 22 नवंबर से उसकी हालत ज्यादा खराब थी। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वो वडोदरा के एसएसजी अस्पताल (SSG Hospital, Vadodara) ऑक्सीजन सपोर्ट पर था, लेकिन गुरुवार देर रात उसकी मौत हो गई। मौत के बाद पुलिस कानूनी कार्रवाई में जुटी है। पुलिस का कहना है कि उसका शव पोस्टमार्टम के बाद उसके परिवार को सौंप दिया जाएगा।

गौरतलब हो कि 2 फरवरी 2002 में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन (Sabarmati Express Train) के एस-6 डिब्बे में आग लगा दी गई थी, जिसमें 59 लोगों की जलकर मौत हो गई थी। इस मामले में हाजी बिलाल मुख्य आरोपियों में से एक था। जिसे निचली अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी। हालांकि बाद में गुजरात हाईकोर्ट (Gujarat High Court) ने हाजी बिलाल (Haji Bilal) समेत 11 दोषियों की मौत की सजा को आजीवन कारावास में बदल दिया था।

पढ़ें :- Kisan Andolan: तो क्या खत्म हो जाएगा अब किसान आंदोलन, मिलने लगे संकेत?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...