मार्च में सोने की कीमतों में होगी और गिरावट, जानें क्या है कारण

gold
मार्च में सोने के दामों में होगी और गिरावट, जानें क्या है कारण

नई दिल्ली। सोने की गिरती कीमतों को लेकर जहां एक तरफ निवेशकों का रुझान कम हो रहा है, वहीं आमलोगों में इसका रुझान बढ़ता दिखाई दे रहा है। सोने की गिरते दामों की कीमतों में गिरावट का सिलसिला अगले कई दिनों तक चलता रहेगा। दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोने की कीमतें गिरकर 32,500 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव तक आने की उम्मीद लगाई जा रही है।

Gold Rate Down March In Market :

आपको बता दें कि सोने का भाव 20 फरवरी को दिल्ली के सर्राफा बाज़ार में 34975 रुपये प्रति 10 ग्राम थे। वहीं, अब कीमतें गिरकर 33,110 रुपये (15 मार्च का भाव) प्रति दस ग्राम पर आ गई है। इस हिसाब दिल्ली के सर्राफा बाजार में अबतक सोना 1865 रुपये तक सस्ता हो गया है।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, शेयर बाजार में आई तेजी के कारण निवेशकों ने सोने में का रुझान कम कर दिया है। साथ ही भारतीय रुपये में आई मज़बूती के चलते सोने की कीमतों पर दबाव बना रहेगा। एसकोर्ट सिक्योरिटी के हेड आसिफ इकबाल ने बताया कि घरेलू ज्वेलर्स की ओर से सोने की डिमांड में लगातार गिरावट आ रही है।

वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ट्रेड वॉर को लेकर चिंताएं कम हो रही हैं। इसीलिए सोने की कीमतों पर दबाव बढ़ गया है। आसिफ का मानना है कि डॉलर भी अब अन्य करेंसीज़ के मुकाबले कमज़ोर हो गयी है। अगले 15 दिन भी सोने की कीमतों में गिरावट रहने की उम्मीद है। ऐसे में 10 ग्राम सोने की कीमतें 32,500 रुपये प्रति दस ग्राम तक मिलेगा।

नई दिल्ली। सोने की गिरती कीमतों को लेकर जहां एक तरफ निवेशकों का रुझान कम हो रहा है, वहीं आमलोगों में इसका रुझान बढ़ता दिखाई दे रहा है। सोने की गिरते दामों की कीमतों में गिरावट का सिलसिला अगले कई दिनों तक चलता रहेगा। दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोने की कीमतें गिरकर 32,500 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव तक आने की उम्मीद लगाई जा रही है।

आपको बता दें कि सोने का भाव 20 फरवरी को दिल्ली के सर्राफा बाज़ार में 34975 रुपये प्रति 10 ग्राम थे। वहीं, अब कीमतें गिरकर 33,110 रुपये (15 मार्च का भाव) प्रति दस ग्राम पर आ गई है। इस हिसाब दिल्ली के सर्राफा बाजार में अबतक सोना 1865 रुपये तक सस्ता हो गया है।

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, शेयर बाजार में आई तेजी के कारण निवेशकों ने सोने में का रुझान कम कर दिया है। साथ ही भारतीय रुपये में आई मज़बूती के चलते सोने की कीमतों पर दबाव बना रहेगा। एसकोर्ट सिक्योरिटी के हेड आसिफ इकबाल ने बताया कि घरेलू ज्वेलर्स की ओर से सोने की डिमांड में लगातार गिरावट आ रही है।

वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ट्रेड वॉर को लेकर चिंताएं कम हो रही हैं। इसीलिए सोने की कीमतों पर दबाव बढ़ गया है। आसिफ का मानना है कि डॉलर भी अब अन्य करेंसीज़ के मुकाबले कमज़ोर हो गयी है। अगले 15 दिन भी सोने की कीमतों में गिरावट रहने की उम्मीद है। ऐसे में 10 ग्राम सोने की कीमतें 32,500 रुपये प्रति दस ग्राम तक मिलेगा।