1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. अलविदा: शानदार कैरियर और बहुत सारी खुशनुमा यादों के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट से विदा हुआ ‘चैंपियन’

अलविदा: शानदार कैरियर और बहुत सारी खुशनुमा यादों के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट से विदा हुआ ‘चैंपियन’

वेस्टइंडीज के शानदार क्रिकेटर,आलरांउंडर,चैंपियन और डीजे ब्रावो के नाम से मशहूर ड्वेन ब्रावो ने इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास ले लिया। यूएई और ओमान में खेले जा रहे टी20 विश्वकप के मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए उनके कैरियर का अंत हुआ। इसके पहले श्रीलंका के साथ हुए मैच के बाद ही ब्रावो ने सन्यास का घोषणा किया था।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के शानदार क्रिकेटर,आलरांउंडर,चैंपियन और डीजे ब्रावो(DJ Bravo) के नाम से मशहूर ड्वेन ब्रावो ने इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास ले लिया। यूएई और ओमान में खेले जा रहे टी20 विश्वकप के मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए उनके कैरियर का अंत हुआ। इसके पहले श्रीलंका के साथ हुए मैच के बाद ही ब्रावो ने सन्यास का घोषणा किया था। अपने करियर के आखिरी मैच में ब्रावो 10 रन बनाकर आउट हुए और उनके सम्मान में ऑस्ट्रेलिया(Australiya) खिलाड़ियों समेत तमाम फैन्स ने खड़े होकर तालियां बजाई।

पढ़ें :- Breaking: अब क्रिकेट के मैदान में 360 डिग्री पर नहीं दिखेगा चौका-छक्का, पूर्ण रुप से एबी डिविलियर्स ने लिया संन्यास

ब्रावो ने वेस्टइंडीज को दो बार टी-20 चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई और बल्ले और गेंद के दम पर टीम को कई यादगार जीत दिलाई। वेस्टइंडीज के तमाम खिलाड़ियों ने डगआउट में खड़े होकर ब्रावो तालियां बजाई और दूसरे छोर पर बैटिंग कर आंद्रे रसेल ने उनको गले लगाकर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। ब्रावो आईपीएल(IPL) में चेन्न्ई की टीम के लिए खेलते हैं। ऐसे में उनकी अच्छी खासी फैन फालोइंग भारत में भी है। भारत के बच्चों के बीच भी ब्रावो काफी लोकप्रिय हैं। अपने द्वारा गाये गाने ‘चैंपियन ब्रावो'(Chaimpion Bravo) ने उनकी प्रसिद्धी को और बढ़ाया है।

साल 2004 में डेब्यू करने वाले ब्रावो ने अपने भविष्य को लेकर कहा कि वह फ्रेंचाइजी क्रिकेट अगले कुछ सालों तक खेलते रहेंगे जबतक उनकी बॉडी साथ देगी। ब्रावो ने वेस्टइंडीज की तरफ से 40 टेस्ट, 164 वनडे और 91 टी-20 मैच खेले। इस दौरान उन्होंने क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में 2200 रन बनाने के साथ 86 विकेट अपने नाम किए। वहीं, वनडे में उनके बल्ले से 2968 रन निकले, जबकि गेंदबाजी में ब्रावो ने 199 विकेट चटकाए। फटाफट क्रिकेट हमेशा से ही इस कैरेबियाई ऑलराउंडर(Allrounder) को खूब रास आया और उन्होंने इस फॉर्मेट में 1255 रन बनाने के साथ 78 विकेट भी अपने नाम किए। ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए साल 2004 में डेब्यू(Debue) किया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...