गूगल की नौकरी छोड़ भला कौन बेचना चाहेगा मटन-समोसें, लेकिन इस शख्स ने ऐसा किया

नई दिल्ली| ‘कुछ तूफानी करते हैं’ इस टैग लाइन से प्रभावित होकर दुनिया में कई ऐसे लोग हैं जो जिन्होंने कुछ अलग करने को सोचा| जिंदगी में रिस्क लेना चाहिए लेकिन उतना ही जिससे दुनिया पागल कहने लगे| लेकिन कुछ होते है कि जो वे ठान लेते है वह कर के ही दम लेते है, चाहे दुनिया जो भी कहे उन्हें फर्क नहीं पड़ता| और हां, कामयाबी की मिसाल भी वही लोग पेश कर पाते हैं जो बिना डरे जोखिम उठाने को तैयार होते हैं। यह सब बातें इसलिए हो रही हैं क्योकि हम जिस शख्स के बारे में बताने जा रहें हैं उसके बारे में सुन आप भी चौक जायेंगे|

एक शख्स ऐसा जिसने गूगल की नौकरी छोड़ मटन-समोसें बेचने का प्लान बनाया| अब आप भी इसे पागलपन नहीं तो और क्या नाम देंगे| लेकिन इस शख्स ने अपने फैसले के बाद जिस तरह से काम कर दिखाया उसी वजह से दुनिया हैरान हैं और वह शोहरत की बुलंदियों पर हैं|

मुनाफ कपाड़िया नाम के इस शख्स ने मुंबई के नर्सी मोंजी इंस्टिट्यूट से एमबीए की पढ़ाई की। पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कुछ कंपनियों में नौकरी की और फिर विदेश चला गया, आखिर में उन्हें गूगल में नौकरी का सुनहरा मौका मिल गया। मगर गूगल में भी मुनाफ को संतुष्टि नहीं मिली। उन्हें लगा कि वह इससे कुछ अलग करना चाहते हैं। मुनाफ को बिजनेस का आडिया आया और फिर इसकी शुरुआत की।

यह जोखिम उठाने के बाद मुनाफ अब ‘द बोहरी किचन’ रेस्‍टोरेंट के मालिक हैं जिसका सालाना टर्नओवर लगभग 50 लाख रुपये का है। सिर्फ इतना ही नहीं, फॉर्ब्स मैग्जीन ने मुनाफ को अपने कवर पेज पर जगह दी थी। मुनाफ ने अपना रेस्तरां शुरू करने के लिए अपनी मां नफीसा से मदद ली। उनकी मां अमूमन ज्यादातर समय घर में टीवी पर फूड शो देखते हुए बिताती थीं। मुनाफ को लगा कि वह अपनी मां से टिप्स लेकर फूड चेन का काम शुरू कर सकते हैं। मुनाफ ने अपनी मां के हाथों का बना हुआ खाना कई लोगों को खिलाया। ज्यादातर लोगों को खाना पसंद आया और इसके बाद मुनाफ ने रेस्तरां की शुरुआत की।

आज मुनाफ का “द बोहरी किचन” न सिर्फ मुंबई बल्कि देशभर में भी मशहूर है। उनके रेस्तरां का सबसे बेहतरीन, लजीज और मशहूर फूड आइटम मटन समोसा माना जाता है। मगर “द बोहरी किचन” सिर्फ मटन समोसा के लिए ही मशहूर नहीं है। नरगि‍स कबाब, डब्‍बा गोश्‍त, करी चावल समेत ऐसी कई डिशेज हैं जिनके लिए “द बोहरी किचन” मशहूर है। कीमा समोसा के अलावा मटन रान भी रेस्तरां की एक महशूर और लजीज खाना माना जाती है। बीते दो सालों में ही रेस्तरां का टर्नओवर 50 लाख रुपये तक पहुंच गया है। “द बोहरी किचन” को अपने लजीज खाने के लिए कई सेलेब्स द्वारा भी तारीफ मिल चुकी है।