Google ने फाइल्स ऐप में लॉन्च किया ‘Safe Folder’, अब आपका पर्सनल डाटा रहेगा और भी सुरक्षित

google

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते बच्चों को घर बैठे ऑनलाइन क्लासेज दी जा रही हैं और ऐसे में उनका अधिकतर समय आपके स्मार्टफोन के साथ गुजरता है। इतना ही सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए लोग एक-दूसरे से मिलने के बजाय स्मार्टफोन पर वीडियो कॉलिंग व मैसेज के जरिए कनेक्ट हो रहे हैं। इस दौरान पर्सनल डाटा की सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है और इसी को ध्यान में रखते हुए Google ने अपने यूजर्स के लिए ‘Safe Folder’ लॉन्च किया है जो कि 4 अंकों वाला एक पिन-एन्क्रिप्टेड फोल्डर है और यह आपके पर्सनल डाटा की सुरक्षा करेगा।

Google Launches Safe Folder In Files App Now Your Personal Data Will Be More Secure :

डॉक्यूमेंट्स, इमेज, वीडियो और ऑडियो सब रहेंगे सुरक्षित

Google ने फाइल्स ऐप में ‘Safe Folder’ को लॉन्च किया है। यह फोल्डर यूजर्स के महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट्स, इमेज, वीडियो और ऑडियो फाइलों को दूसरों द्वारा खोलने या एक्सेस किए जाने से बचाता है। नए फोल्डर को लेकर Google का कहना है कि ‘जैसे ही आप फाइल एप्लिकेशन से दूर जाते हैं, तो फोल्डर सुरक्षित रूप से लॉक हो जाता है और ऐसे में कोई भी बैकग्राउंड में उपलब्ध आपके डाटा को एक्सेस नहीं कर सकता।’

ऐसे काम करता है Safe Folder

Safe Folder एक सुरक्षित, 4-डिजिट का पिन-एनक्रिप्टेड फोल्डर है, जो आपके महत्वपूर्ण दस्तावेजों, छवियों, वीडियो और ऑडियो फाइलों को दूसरों द्वारा ओपन करने या एक्सेस करने से बचाता है। यानि आपकी मर्जी के बिना कोई आपके पर्सनल डाटा को एक्सेस नहीं कर सकता। जब आप फाइल ऐप से दूर होते हैं तो फोल्डर लॉक हो जाता है। ऐसे में अगर कोई इसे ओपन करने की कोशिश करता है तो उसे पिन नंबर डालना होगा। जो कि आपके पास है। इतना ही नहीं आपको भी दोबारा ओपन करने के लिए इसमें 4 डिजिट का पिन नंबर डालना होगा। इसकी मदद से आप अपने डाटा को पूरी तरह सुरक्षित रख सकते हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते बच्चों को घर बैठे ऑनलाइन क्लासेज दी जा रही हैं और ऐसे में उनका अधिकतर समय आपके स्मार्टफोन के साथ गुजरता है। इतना ही सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए लोग एक-दूसरे से मिलने के बजाय स्मार्टफोन पर वीडियो कॉलिंग व मैसेज के जरिए कनेक्ट हो रहे हैं। इस दौरान पर्सनल डाटा की सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है और इसी को ध्यान में रखते हुए Google ने अपने यूजर्स के लिए 'Safe Folder' लॉन्च किया है जो कि 4 अंकों वाला एक पिन-एन्क्रिप्टेड फोल्डर है और यह आपके पर्सनल डाटा की सुरक्षा करेगा।

डॉक्यूमेंट्स, इमेज, वीडियो और ऑडियो सब रहेंगे सुरक्षित

Google ने फाइल्स ऐप में 'Safe Folder' को लॉन्च किया है। यह फोल्डर यूजर्स के महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट्स, इमेज, वीडियो और ऑडियो फाइलों को दूसरों द्वारा खोलने या एक्सेस किए जाने से बचाता है। नए फोल्डर को लेकर Google का कहना है कि 'जैसे ही आप फाइल एप्लिकेशन से दूर जाते हैं, तो फोल्डर सुरक्षित रूप से लॉक हो जाता है और ऐसे में कोई भी बैकग्राउंड में उपलब्ध आपके डाटा को एक्सेस नहीं कर सकता।'

ऐसे काम करता है Safe Folder

Safe Folder एक सुरक्षित, 4-डिजिट का पिन-एनक्रिप्टेड फोल्डर है, जो आपके महत्वपूर्ण दस्तावेजों, छवियों, वीडियो और ऑडियो फाइलों को दूसरों द्वारा ओपन करने या एक्सेस करने से बचाता है। यानि आपकी मर्जी के बिना कोई आपके पर्सनल डाटा को एक्सेस नहीं कर सकता। जब आप फाइल ऐप से दूर होते हैं तो फोल्डर लॉक हो जाता है। ऐसे में अगर कोई इसे ओपन करने की कोशिश करता है तो उसे पिन नंबर डालना होगा। जो कि आपके पास है। इतना ही नहीं आपको भी दोबारा ओपन करने के लिए इसमें 4 डिजिट का पिन नंबर डालना होगा। इसकी मदद से आप अपने डाटा को पूरी तरह सुरक्षित रख सकते हैं।