1. हिन्दी समाचार
  2. गोरखपुर: गोरखनाथ के दर्शन करने पहुंचे फिल्मस्टार गोविंदा, CM योगी से भी की मुलाक़ात

गोरखपुर: गोरखनाथ के दर्शन करने पहुंचे फिल्मस्टार गोविंदा, CM योगी से भी की मुलाक़ात

Gorakhpur Filmstar Govinda Arrives To Visit Gorakhnath Also Meets Cm Yogi

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। पूर्व कांग्रेसी सांसद और फिल्मस्टार (Filmstar) गोविंदा (Govinda) रविवार को गोरखपुर (Gorakhpur) के गोरक्षनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) पहुंचे। बंद गले का काला कोट पहने और माथे पर टीका लगाए गोविंदा ने न सिर्फ यूपी सीएम से मुलाकात की बल्कि उन्होंने गोरखपुर के मशहूर गोरखनाथ मंदिर में पूजा अर्चना भी की। मुख्यमंत्री और गोविंदा के बीच फिल्म शूटिंग और एको टूरिज्म को  बढ़ावा देने समेत कई मुदों पर चर्चा हुई।

पढ़ें :- 20 जनवरी 2021 का राशिफल: इस राशि के जातकों को मिलने वाला है आर्थिक लाभ, जानिए अपनी राशि का हाल

रविवार सुबह 9:00 बजे गोविंदा गोरखनाथ मंदिर पहुंचे। गोविंदा ने गोरखनाथ जी का दर्शन किया॰ गोरखनाथ मंदिर के बैठक कक्ष में उनकी 9:15 बजे मुख्यमंत्री  जी से मुलाकात हुई। इस दौरान यूपी में फिल्म की शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री ने गोविंदा से कहा कि वह फिल्मों की शूटिंग उत्तर प्रदेश में करवाएं। यहां अपार संभावनाएं हैं यूपी टूरिज्म को काफी बढ़ावा दिया गया है गोरखपुर में रामगढ़ ताल को पर्यटन की दृष्टि से बढ़ावा दिया गया है।

गोरखपुर: गोरखनाथ के दर्शन करने पहुंचे फिल्मस्टार गोविंदा, CM योगी से भी की मुलाक़ात

योगी आदित्यनाथ ने गोविंदा को कुंभ मेले की पूरी विस्तार से जानकारी दी कि कैसे इसे विश्वस्तरीय बनाया गया. योगी ने गोविंदा को प्रयागराज कुंभ 2019 की पुस्तक भेंट की।

100 फरियादियों से मिले सीएम योगी

पढ़ें :- इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, इनको मिली जगह

दो दिन के दौरे पर गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार की सुबह गोरखनाथ मन्दिर में जनता दर्शन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने करीब 100 लोगों की फरियाद सुनी और समस्या समाधान के लिए आश्वस्त किया। लम्बे समय से लंबित मामलों को योगी ने गम्भीरता से लेते हुए कार्रवाई के लिए शिकायती पत्र मौके पर ही अधिकारियों को सौंपा और तत्काल कार्रवाई का निर्देश दिया। योगी करीब एक घण्टे जनता दर्शन में रहे।

इससे पहले योगी की दिनचर्या परम्परागत रही। गुरु गोरखनाथ व ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की पूजा अर्चना के बाद उन्होंने मंदिर परिसर का भ्रमण किया और फिर कुछ समय गोशाला में गायों के बीच रहे। 7 बजे के करीब वह मन्दिर के हिन्दू सेवाश्रम पहुंचे, जहां फरियाद के लिए तड़के से ही बड़ी संख्या गोरखपुर और आसपास के लोग जमे हुए थे। योगी एक-एक फरियादी के पास खुद गए और उनका प्रार्थना-पत्र लिया।

सभी फरियादियों की समस्या को उन्होंने ध्यान से सुना और समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देश भी देते रहे। हमेशा की तरह इस बार भी पुलिस के मामले ज्यादा आये। मुख्यमंत्री के जाने के बाद बचे हुए करीब 100 फरियादियों की समस्या मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय के प्रभारी मोती लाल सिंह ने सुनीं। वहां पर इस दौरान एडीजी दावा शेरपा, आइजी जयनारायण सिंह, कमिश्नर जयंत नार्लिकर, जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन, एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...