1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Gorakhpur News: फर्जी पैरामेडिकल कॉलेज बनाकर ठगी करने वाले की 100 करोड़ की संपत्ति कुर्क

Gorakhpur News: फर्जी पैरामेडिकल कॉलेज बनाकर ठगी करने वाले की 100 करोड़ की संपत्ति कुर्क

  जरायम की दुनिया से कमाए हुए पैसों से खड़ी की गई संपत्ति को नेस्तनाबूद करने के लिए और अपराधियों को आर्थिक रूप से पंगु करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरीके से तत्पर है। इसी क्रम में आज गोरखपुर के राज नर्सिंग होम एंड पैरामेडिकल कॉलेज के संचालक अभिषेक यादव के 100 करोड़ की संपत्ति को जिला प्रशासन ने कुर्क कर दिया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Gorakhpur News:  जरायम की दुनिया से कमाए हुए पैसों से खड़ी की गई संपत्ति को नेस्तनाबूद करने के लिए और अपराधियों को आर्थिक रूप से पंगु करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरीके से तत्पर है। इसी क्रम में आज गोरखपुर के राज नर्सिंग होम एंड पैरामेडिकल कॉलेज के संचालक अभिषेक यादव के 100 करोड़ की संपत्ति को जिला प्रशासन ने कुर्क कर दिया।

पढ़ें :- Delhi News: सीएम केजरीवाल को जान से मारने की धमकी, पुलिस के पास देर रात आया कॉल

राज नर्सिंग एंड पैरामेडिकल कॉलेज पर जालसाजी कर छात्रों से अधिक फीस वसूलने और फर्जी मान्यता पर प्रवेश लेने के मामले में में पिपराइच पुलिस ने केस दर्ज किया था। तहसीलदार सदर की तहरीर पर पिपराइच थाने में जालसाजी, कूटरचित दस्तावेज तैयार करने, छल करने की धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

अभिषेक यादव पर आरोप है कि उसने फर्जी पैरामेडिकल कॉलेज खोलकर सैकड़ों छात्रों के भविष्य खिलवाड़ किया। इस मामले में पैरामेडिकल कॉलेज के छात्रों ने डीएम को प्रार्थना पत्र देकर बताया था कि वर्ष 2018-19 एएनएम, जीएनएम वर्ष 2019-20 में एएनएम, जीएनएम और सत्र 2020-21 व 2021-22 में प्रवेश के लिए डोनेशन एवं निर्धारित से अधिक फीस ले ली गई है। इसके बाद न परीक्षा कराई गई और न ही डिग्री दी गई। प्रथम सत्र के छात्रों को यूपी स्टेट मेडिकल फैकल्टी बताकर रजिस्ट्रेशन कराया गया और बाद में स्टेट मेडिकल फैकल्टी बताया जा रहा है। बाद में पता चला की संस्था की मान्यता नहीं है। कूटरचित दस्तावेज के आधार पर मान्यता ली गई है। सीएमओ की जांच में भी इसकी पुष्टि हुई थी। छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हुआ है।

रिपोर्ट—रवि जायसवाल

पढ़ें :- IND vs NZ : हार्दिक पांड्या की नाराजगी के बाद इकाना स्टेडियम के पिच क्यूरेटर पर गिरी गाज
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...