1. हिन्दी समाचार
  2. आरोग्य सेतु एप को लेकर सरकार ने जारी किया ये निर्देश

आरोग्य सेतु एप को लेकर सरकार ने जारी किया ये निर्देश

Government Issued These Instructions Regarding The Arogya Setu App

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर फैलाए जा रहे फर्जी आरोग्य सेतु एप से भी सरकार की तरफ से सावधान रहने को कहा है। आरोग्य सेतु एप्लिकेशन गूगल प्ले स्टोर, एप्पल स्टोर, मेरी सरकार (माईगॉव) वेबसाइट पर उपलब्ध है। लोगों को आगाह किया है कि सोशल मीडिया के जरिए यदि कोई आरोग्य सेतु ऐप का लिंक भेजने का दावा करे तो उसे क्लिक न किया जाए। वो वायरस हो सकता है। ऐसे लिंक के बारे में रिपोर्ट करने को भी कहा गया है।

पढ़ें :- नौतनवां:एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थिया,रो उठा पूरा नगर

नए यूपीआई खातों पर साइबर ठगों की नजर

कोरोना संकट के दौर में कैश से डिजिटल लेन-देन की ओर अभी-अभी शिफ्ट हुए तमाम लोग अब साइबर ठगों की नजर में आ गए हैं। ‘हिन्दुस्तान’ को मिली जानकारी के मुताबिक साइबर ठग इन नए लोगों को ही पहले निशाना बना रहे हैं। देश में बीते मार्च और अप्रैल के बीच करीब 50 लाख नए लोगों ने यूपीआई खाते खोले हैं। साइबर ठग इन्हीं लोगों को निशाना बनाकर उन्हें एक लिंक के साथ एसएमएस भेजते हैं जिसे खोलते ही लोगों के खाते की रकम साफ करने के लिए ठगों के लिए रास्ता खुल जाता है।

लुभावने वादों वाले लिंक से सावधान

राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा समन्वयक लेफ्टिनेंट जनरल राजेश पंत ने बताया कि नए लोगों को शिकार बनाना साइबर गिरोह के लिए आसान हो जाता है। उनके मुताबिक पिछले दो महीने में बढ़ता साइबर फ्रॉड का ग्राफ अब काबू में आ रहा है, लेकिन नए लोगों को निशाना बनाने में ये ठग नहीं चूकते। उन्होंने लोगों को सुझाव देते हुए कहा कि किसी भी गैर जरूरी लिंक को खोलते ही व्यक्ति के मोबाइल या कम्प्यूटर की कमान साइबर ठग के हाथ में जाने की आशंका रहती है।

पढ़ें :- किसान आंदोलनः 10वें दौर की बातचीत बेनतीजा, 22 जनवरी को होगी अगली बैठक

ऐसे में सावधानी से ही इंटरनेट का इस्तेमाल करना चाहिए और लुभावने वादों वाले लिंक बिल्कुल भी क्लिक नहीं करने चाहिए। साइबर गिरोह में शामिल लोग फर्जी आधार और मोबाइल नंबर के जरिए काम करते हैं, ऐसे में उनका पता लगा पाना मुश्किल होता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...