मिडिल क्लास के लिए बड़ी राहत, 2018 के बजट में पीएम मोदी देंगे ये सौगात

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने 2019 में होने वाले चुनावों के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। ऐसा माना जा रहा है कि मोदी सरकार अपने आखिरी पूर्ण बजट में मिडिल क्लास के लोगो के लिए बड़ी सौगात देने की योजना बना रही है। मध्यम वर्ग को बीजेपी का सबसे बड़ा आधार माना जाता है यही वजह है कि आगामी बजट में सरकार टैक्स से जु़ड़ी कई बड़ी राहतें इस वर्ग को दे सकती हैं।

मिडिल क्लास के लोगों को इन जगहों पर मिलेगी छूट

{ यह भी पढ़ें:- जीएसटी काउंसिल की 25वीं बैठक में 29 वस्तुएं टैक्स फ्री, 53 सेवाएं सस्ती }

मोदी सरकार मिडिल क्लास के लोगों को टैक्स छूट, हेल्थ इंश्योरेंस पर अतिरिक्त लाभ, एफडी पर अधिक ब्याज का ऐलान किए जाने पर विचार कर रही है। बीते कुछ महीनों में सेंसेक्स में उछाल और म्युचूअल फंड्स के रिटर्न में इजाफा होने के चलते लोगों का सरकारी निवेश योजनाओं का आकर्षण कम होता दिख रहा है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी कहा कि सरकार लोगों के पास अधिक फंड छोड़ने पर विश्वास करती है ताकि लोग ज्यादा से ज्यादा खर्च और निवेश कर सकें।

हाल ही में मिडिल क्लास को राहत देने के लिए सरकार ने 200 आइटम्स को 28 पर्सेंट जीएसटी के दायरे से बाहर किया है। कहा जा रहा है कि फाइनैंस मिनिस्टर अरुण जेटली के साथ चर्चा के बाद पीएम मोदी राजनीतिक लिहाज से बड़ा फैसला लेते हुए टैक्स में रियायत दे सकते हैं। फिलहाल 2.5 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं है। इसके अलावा पीपीएफ और 5 साल के लिए बैंक खातों में 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर छूट मिलती है। वहीं, इनकम टैक्स ऐक्ट के सेक्शन 80सी के तहत भी टैक्स में कई तरह की छूट मिलती हैं।

{ यह भी पढ़ें:- साल 2018 के बजट में मोदी सरकार दे सकती है हेल्थ इंश्योरेंस का तोहफा }

Loading...