पत्थरबाज फारूक डार को 10 लाख मुआवजा दे सरकार: राज्य मानवाधिकार आयोग

जम्मू। अभी कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हुई थी जिसमे भारतीय सेना की जीप के बोनट में बांधकर एक शख्स घुमाया दिखाया जा रहा है। जिसे देशभर में खूब सराहा गया,लोगों ने कहा कि पाठठारबाजों को ऐसे ही सबक सीखना पड़ेगा लेकिन अब इस मसले पर यहां के राज्य मानवाधिकार आयोग द्वारा एक चौंकाने वाला फैसला सामने आया है। सोमवार को राज्य मानवाधिकार आयोग द्वारा रियासत सरकार को एक आदेश जारी करते हुए उस पत्थरबाज को मुआवजा देने के लिए कहा गया है जिसे पिछले दिनों भारतीय सेना के मेजर द्वारा पत्थरबाजी से बचने के लिए जीप पर बांधकर घुमाया गया था।

आदेश के मुताबिक कश्मीरी पत्थरबाज फारूख अहमद डार को राज्य सरकार द्वारा कुल 10 लाख रूपए की मुआवजा राशि प्रदान करने के आदेश जारी किए गए हैें। आयोग के आदेश को राज्य सरकार को आगामी 6 सप्ताह के समय में पूरा कर देने की हिदायत भी दी गई है।

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी के साथ कौन है ये विदेशी लड़की, सोशल मीडिया में वायरल हुई फोटो }

इस आदेश के बाद सारे देश में राज्य मानवाधिकार आयोग के फैसले पर हैरानी जताई जा रही है, वहीं सोशल मीडिया पर भी इस फैसले के बाद लोगों की बड़ी संख्या में प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही है। गौरतलब है कि पत्थरबाज फारूख अहमद डार कश्मीर के बड़गाम का निवासी है। फारूख को मुआवजा दिए जाने के फैसले के पूर्व इस मामले से संबंधित याचिका इंटरनेशनल फोरम फॉर जस्टिस एंड प्रोटेक्शन ऑफ ह्यूमन राइट्स के अध्यक्ष अहसान अनतू द्वारा दायर की गई थी।

{ यह भी पढ़ें:- सेना के जवान को थप्पड़ मारने वाली महिला अरेस्ट }