झटका : अगस्त की तुलना में छह हजार करोड़ कम हुआ जीएसटी का कलेक्शन

gst recovery
झटका : अगस्त की तुलना में छह हजार करोड़ कम हुआ जीएसटी का कलेक्शन

नई दिल्ली। जीएसटी की वसूली में अगस्त महीने की तुलना में सितंबर में करीब छह हजार करोड़ से ज्यादा की गिरावट आई है। आंकड़ो के मुताबिक अगस्त में जीएसटी कलेक्शन की राशि 98,202 करोड़ रूपये थी, जो सितंबर महीने में घटकर 91,916 करोड़ रूपये हो गयी।

Gst Collection Reduced By Six Thousand Crores Compared To August :

GST का संग्रह सितंबर 2019 में 2.67 प्रतिशत गिरकर 91916 करोड़ रुपये पर आ गया जो पिछले वर्ष इसी महीने में संग्रहित 94442 करोड़ रुपये के राजस्व की तुलना में 2.67 प्रतिशत कम है। बताया जा रहा है कि ये कलेक्शन बीते 19 महीनों में सबसे कम रहा।

इस वर्ष अप्रैल, मई और जुलाई में यह राशि एक-एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रही थी। जून में यह लगभग एक लाख करोड़ रुपये रहा था। अगस्त में यह राशि 98202 करोड़ रुपये रही थी। वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि सितंबर में संग्रहित जीएसटी में केंद्रीय जीएसटी संग्रह 16630 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी संग्रह 22598 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी संग्रह 45069 करोड़ रुपये और उपकर संग्रह 7620 करोड़ रुपये रहा। एकीकृत जीएसटी में 22097 करोड़ रुपये और उपकर में 728 करोड़ रुपये आयात से प्राप्त हुये हैं।

नई दिल्ली। जीएसटी की वसूली में अगस्त महीने की तुलना में सितंबर में करीब छह हजार करोड़ से ज्यादा की गिरावट आई है। आंकड़ो के मुताबिक अगस्त में जीएसटी कलेक्शन की राशि 98,202 करोड़ रूपये थी, जो सितंबर महीने में घटकर 91,916 करोड़ रूपये हो गयी। GST का संग्रह सितंबर 2019 में 2.67 प्रतिशत गिरकर 91916 करोड़ रुपये पर आ गया जो पिछले वर्ष इसी महीने में संग्रहित 94442 करोड़ रुपये के राजस्व की तुलना में 2.67 प्रतिशत कम है। बताया जा रहा है कि ये कलेक्शन बीते 19 महीनों में सबसे कम रहा। इस वर्ष अप्रैल, मई और जुलाई में यह राशि एक-एक लाख करोड़ रुपये से अधिक रही थी। जून में यह लगभग एक लाख करोड़ रुपये रहा था। अगस्त में यह राशि 98202 करोड़ रुपये रही थी। वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि सितंबर में संग्रहित जीएसटी में केंद्रीय जीएसटी संग्रह 16630 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी संग्रह 22598 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी संग्रह 45069 करोड़ रुपये और उपकर संग्रह 7620 करोड़ रुपये रहा। एकीकृत जीएसटी में 22097 करोड़ रुपये और उपकर में 728 करोड़ रुपये आयात से प्राप्त हुये हैं।