27 सदस्यीय टीम खंगाल रही सोनौली में जीएसटी चोरी का खेल

nepal
27 सदस्यीय टीम खंगाल रही सोनौली में जीएसटी चोरी का खेल

सोनौली। भारत-नेपाल सीमा सोनौली के रास्ते नेपाल के नाम पर जीएसटी चोरी की शिकायत पर पहुचे गोरखपुर ज्वाइंट कमिश्नर के नेतृत्व में जीएसटी अधिकारियों की 27 सदस्यीय टीम ने सोनौली के सुगम परिवहन लिमिटेड पर एक साथ उसके दो गोदाम और ऑफिस पर छापेमारी कर सारे दस्तावेज और कम्प्यूटर सिस्टम को अपने कब्जे में ले लिया। देर शाम तक चली कार्यवाही में जीएसटी चोरी इवेए बिल सहित कमियां अधिकारियों ने पकड़ी और प्रारम्भिक जाच शुरू कर दिया है।

Gst Evasion Game In Sonauli A 27 Member Team Is Rushing :

गुरुवार की सुबह करीब दस बजे प्रदेश में जीएसटी चोरी की बड़ी शिकायत मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के निर्देश पर जोनल एडिशनल कमिश्नर शेषमणि शर्मा,ज्वाइंट कमिश्नर बिशंभर नाथ द्विवेदी के निर्देशानुसार ज्वाइंट कमिश्नर विशेष जांच शाखा बी रमेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में एस.एन सिह डिप्टी कमिश्नर, एसएन यादव डिप्टी कमिश्नर, जयंत सिह मोबाइल स्क्वायट गोरखपुर, अलीमुद्दीन सिद्दार्थ नगर डा.सुनील कुमार कुशीनगर,आशीष कुमार देवरिया के साथ 27 सदस्यीय टीम सोनौली पहुची।

सुगम परिवहन के टैक्सी स्टैंड और बाइपास के दो गोदाम और कस्बे स्थित ऑफिस पर एक साथ छापा मार कर तीनो स्थानों को अपने कब्जे में ले लिया और जांच कार्यवाही शुरू कर दी। देर शाम पत्रकारों से बातचीत में ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चन्द्र दुबे ने बताया कि राजस्व को सुरक्षित करना है।

सोनौली बॉर्डर पर नियमानुसार कार्य हो रहा है। जिसकी निगरानी शुरू की गई है। सुगम परिवहन के शिकायत की हुई प्रारम्भिक जांच में इवेए बिल में भारी अनिमियता की पुष्टि हुई है। आगे जांच चल रही है। सारे कागजातों को चेक किया जा रहा है। जीएसटी की चोरी में कड़ी कार्यवाही किया जाएगा। आगे भी सीमा के सभी ट्रांसपोर्ट की जांच की जाएगी। अब यह शिलशिला जाती रहेगा।

सोनौली। भारत-नेपाल सीमा सोनौली के रास्ते नेपाल के नाम पर जीएसटी चोरी की शिकायत पर पहुचे गोरखपुर ज्वाइंट कमिश्नर के नेतृत्व में जीएसटी अधिकारियों की 27 सदस्यीय टीम ने सोनौली के सुगम परिवहन लिमिटेड पर एक साथ उसके दो गोदाम और ऑफिस पर छापेमारी कर सारे दस्तावेज और कम्प्यूटर सिस्टम को अपने कब्जे में ले लिया। देर शाम तक चली कार्यवाही में जीएसटी चोरी इवेए बिल सहित कमियां अधिकारियों ने पकड़ी और प्रारम्भिक जाच शुरू कर दिया है। गुरुवार की सुबह करीब दस बजे प्रदेश में जीएसटी चोरी की बड़ी शिकायत मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के निर्देश पर जोनल एडिशनल कमिश्नर शेषमणि शर्मा,ज्वाइंट कमिश्नर बिशंभर नाथ द्विवेदी के निर्देशानुसार ज्वाइंट कमिश्नर विशेष जांच शाखा बी रमेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में एस.एन सिह डिप्टी कमिश्नर, एसएन यादव डिप्टी कमिश्नर, जयंत सिह मोबाइल स्क्वायट गोरखपुर, अलीमुद्दीन सिद्दार्थ नगर डा.सुनील कुमार कुशीनगर,आशीष कुमार देवरिया के साथ 27 सदस्यीय टीम सोनौली पहुची। सुगम परिवहन के टैक्सी स्टैंड और बाइपास के दो गोदाम और कस्बे स्थित ऑफिस पर एक साथ छापा मार कर तीनो स्थानों को अपने कब्जे में ले लिया और जांच कार्यवाही शुरू कर दी। देर शाम पत्रकारों से बातचीत में ज्वाइंट कमिश्नर रमेश चन्द्र दुबे ने बताया कि राजस्व को सुरक्षित करना है। सोनौली बॉर्डर पर नियमानुसार कार्य हो रहा है। जिसकी निगरानी शुरू की गई है। सुगम परिवहन के शिकायत की हुई प्रारम्भिक जांच में इवेए बिल में भारी अनिमियता की पुष्टि हुई है। आगे जांच चल रही है। सारे कागजातों को चेक किया जा रहा है। जीएसटी की चोरी में कड़ी कार्यवाही किया जाएगा। आगे भी सीमा के सभी ट्रांसपोर्ट की जांच की जाएगी। अब यह शिलशिला जाती रहेगा।