यहाँ कब्रिस्तान में भी देना होता है मुर्दों को किराया

नई दिल्ली। कहा जाता है कि दुनिया में जब तक जिंदा हो तब तक कहीं भी सुकून नहीं है मौत के बाद कब्र ही सबसे सुकून की जगह है। आज हम आपको एक ऐसी जगह की कब्र के बारे में बताएंगे जिसे सुनकर आप हैरान रह जाएँगे। क्या आपने कभी सुना है कि कब्रिस्तान में मुर्दे को भी कब्र में रहने के लिए किराया देना पड़ता है? जी हां मध्य प्रदेश में एक जगह है ग्वाटेमाला जहां बहुमंजिला कब्रिस्तानों में कब्र में रखने के लिए शव के परिजनों को हर माह कब्र का किराया भरना पड़ता है।




बता दें कि ग्वाटेमाला शहर में बहुमंजिला कब्रिस्तानों का चलन है इस शहर के नियम के मुताबिक़ यहां के परिजनों को दफनाने के लिए परिवार के लोगों को हर माह किरायेदारों की तरह कब्र का किराया भरना पड़ता है। इस शहर में जगह की कमी के कारण यहां पर कई बहुमंजिला कब्रिस्ताने बनाई गयी हैं। वहां के नियम के मुताबिक जिस माह शव के परिजन किराया नहीं देते, उसके अगले दिन मुर्दे को कब्र से निकाल कर बाहर रख दिया जाता है और सामूहिक कब्र में डाल दिया जाता है।



प्रशासन का कहना है कि ज्यादा आबादी और जगह कि कमी के चलते ऐसा नियम बनाना उनकी मजबूरी है। वहां का आलम ये है कि अमीर लोग तो जीते जी ही अपनी कब्र के लिए रकम का जुगाड़ कर लेते हैं लेकिन गरीब परिवार के लिए ये काम मुसीबत बना हुआ है। प्रशासन ने हर शहर के बाहर एक सामूहिक ग्राउंड बनाया है जहां हर साल उन शवों को दफनाया जाता है जिनके परिजन समय पर किराया नहीं भर पाते।

Loading...