राज्य सभा के लिए अहमद पटेल की बढ़ी मुश्किल, BJP ने दिया कांग्रेस के मुख्य सचेतक को टिकट, जानें कैसे

ahmed-patel_650x400_41457803957

Gujarat Ahmed Patel In Trouble

पहले  शंकर सिंह वाघेला  ने कांग्रेस से दामन छुड़ा लिया और अब तीन विधायकों और मुख्य सचेतक ने पार्टी को अलविदा कह दिया. चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस को लगातार बड़े झटके लग रहे हैं. गुजरात में कांग्रेस के तीन विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया और मुख्य सचेतक के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया.

कांग्रेस विधायकों के पाला बदलने से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल का राज्यसभा पहुंचा मुश्किल हो सकता है. सिद्धपुर से विधायक मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत को भाजपा ने राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए नामित किया है, जिसके लिए अहमद पटेल ने अपना नामांकन भरा है. राजपूत कांग्रेस के बागी नेता शंकर सिंह वाघेला के रिश्तेदार हैं. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह तथा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पार्टी के दो अन्य उम्मीदवारों में से हैं.

इस्तीफा देने वाले दो अन्य विधायकों में विरमगम से तेजश्री पटेल तथा विजापुर से विधायक पीआई पटेल हैं. तीनों विधायकों ने गुरुवार दोपहर विधानसभा अध्यक्ष रमनलाल वोरा को अपना इस्तीफा सौंप दिया, जिसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए.

भाजपा का दामन थामने के तुरंत बाद बलवंत सिंह राजपूत को राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए भाजपा का उम्मीदवार नामित कर दिया गया. आठ अगस्त को गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए मतदान होगा. चर्चा है कि अभी और विधायक कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थाम सकते हैं.

पहले  शंकर सिंह वाघेला  ने कांग्रेस से दामन छुड़ा लिया और अब तीन विधायकों और मुख्य सचेतक ने पार्टी को अलविदा कह दिया. चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस को लगातार बड़े झटके लग रहे हैं. गुजरात में कांग्रेस के तीन विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया और मुख्य सचेतक के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया. कांग्रेस विधायकों के पाला बदलने से कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल का राज्यसभा पहुंचा मुश्किल हो सकता…