गुजरात विधानसभा चुनाव: कांग्रेस का ग्लैमरस कैंडिडेट मैदान में, सुरेश पटेल को देंगी टक्कर

shweta-brahmbhatt

Gujarat Assembly Election 2017 Congress Giving Shweta Brahmbhatt Ticket From Maninagar

नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने एक ऐसे कैंडिडेट को अहमदाबाद की मणिनगर सीट से मैदान में उतारा है, जो चुनावी मैदान में ग्लैमर का तड़का लगाएंगी। कांग्रेस के इस कैंडिडेट का नाम श्वेता ब्रह्मभट्‌ट है। श्वेता ग्लैमरस होने के साथ ही आईआईएम-बी पासआउट हैं। 34 साल की श्वेता ने बताया कि लोग उन्हें देखकर मॉडल समझ लेते हैं लेकिन वो सोशल वर्क से भी जुड़ी हुई हैं।
श्वेता को कांग्रेस ने मणिनगर सीट से बीजेपी के सुरेश पटेल के खिलाफ उतारा है। पटेल जैसे दिग्गज नेता के खिलाफ श्वेता को चुनावी मैदान में उतारे जाने पर हर कोई हैरान है। श्वेता ब्रह्मभट्ट के पिता नरेंद्र ब्रह्मभट्ट भी कांग्रेसी हैं। नरेंद्र ने साल 2000 में कांग्रेस के टिकट पर म्युनसिंपल कार्पोरेशन का चुनाव भी लड़ा था। श्वेता शुरू से बिजनेस की दुनिया में जाना चाहतीं थीं। उनका कहना है कि उनके पिता उनके प्रेरणास्रोत हैं।
श्वेता ने यूके की बेस्ट मिनिस्टर बिजनेस स्कूल से मास्टर्स और आईआईएम से पॉलिटिकल लीडरशिप की पढ़ाई की है। 2012 में स्टैंडअप इंडिया से लोन लेकर व्यवसाय शुरू करना चाहती थी, लेकिन मुश्किलें आने पर राजनीति में आना तय करते हुए मैदान में उतरी। कहा जा रहा है कि श्वेता के चुनावी मैदान में उतरने से बीजेपी को उसी के गढ़ में कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है।

नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने एक ऐसे कैंडिडेट को अहमदाबाद की मणिनगर सीट से मैदान में उतारा है, जो चुनावी मैदान में ग्लैमर का तड़का लगाएंगी। कांग्रेस के इस कैंडिडेट का नाम श्वेता ब्रह्मभट्‌ट है। श्वेता ग्लैमरस होने के साथ ही आईआईएम-बी पासआउट हैं। 34 साल की श्वेता ने बताया कि लोग उन्हें देखकर मॉडल समझ लेते हैं लेकिन वो सोशल वर्क से भी जुड़ी हुई हैं। श्वेता को कांग्रेस ने मणिनगर सीट से बीजेपी के सुरेश पटेल के खिलाफ उतारा है। पटेल जैसे दिग्गज नेता के खिलाफ श्वेता को चुनावी मैदान में उतारे जाने पर हर कोई हैरान है। श्वेता ब्रह्मभट्ट के पिता नरेंद्र ब्रह्मभट्ट भी कांग्रेसी हैं। नरेंद्र ने साल 2000 में कांग्रेस के टिकट पर म्युनसिंपल कार्पोरेशन का चुनाव भी लड़ा था। श्वेता शुरू से बिजनेस की दुनिया में जाना चाहतीं थीं। उनका कहना है कि उनके पिता उनके प्रेरणास्रोत हैं। श्वेता ने यूके की बेस्ट मिनिस्टर बिजनेस स्कूल से मास्टर्स और आईआईएम से पॉलिटिकल लीडरशिप की पढ़ाई की है। 2012 में स्टैंडअप इंडिया से लोन लेकर व्यवसाय शुरू करना चाहती थी, लेकिन मुश्किलें आने पर राजनीति में आना तय करते हुए मैदान में उतरी। कहा जा रहा है कि श्वेता के चुनावी मैदान में उतरने से बीजेपी को उसी के गढ़ में कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है।