गुजरात में भाजपा को तगड़ा झटका, खरीद फरोख्त के आरोपों से घिरी पार्टी

नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव से ठीक पहले भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) को तगड़ा झटका लगा है। हाल ही में पार्टी में शामिल हुए दो पाटीदार नेताओं ने भाजपा पर खरीद फरोख्त का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया। दोनों नेताओं ने प्रेस कांन्फ्रेंस कर पार्टी पर करोड़ों रुपये ऑफर करने का आरोप लगाया है। बता दें कि ये दोनों नेता हार्दिक पटेल के बेहद करीबी हैं।

पिछले दिनों भाजपा में शामिल हुए नरेंद्र पटेल और निखिल ने पार्टी से अपना नाता तोड़ लिया है। नरेंद्र पटेल ने भाजपा पर खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है वहीं निखिल का आरोप है कि भाजपा उनकी मांग नहीं मानेगी, यह केवल चुनाव तक की स्थिति है। चुनाव में उन्हें जरूरत है उसके बाद कोई जरूरत नहीं रहेगी।

{ यह भी पढ़ें:- हिमाचल और गुजरात चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेंगे राहुल गांधी }

नरेंद्र पटेल ने कहा कि वरुण और रेशमा की तरह भाजपा नेताओं ने पार्टी में शामिल होने के लिए कहा और इसके लिए 1 करोड़ रुपए का ऑफर भी दिया। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए भाजपा पर आरोप लगाया कि उन्हें पार्टी में आने के लिए 1 करोड़ का ऑफर दिया गया और पेशगी के तौर पर उन्हें 10 लाख रुपए भी दिए जा चुके हैं।

पटेल का दावा है, उन्होंने ऑफर ठुकरा दिया है और इसके साथ ही उन्होंने मीडिया के सामने 10 लाख रुपए भी रखे। बता दें कि 26 सितंबर को पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के नेता निखिल सवानी पाटीदार समुदाय के क़रीब डेढ़ सौ लोगों के साथ भाजपा में धूमधाम से ये कहते हुए शामिल हुए थे कि राज्य सरकार उनके समुदाय के हित के लिए काम कर रही है।

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी 11 दिसंबर को बनाए जा सकते हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष }

Loading...