चुनाव प्रचार में भाजपा नहीं कर सकेगी ‘पप्पू’ शब्द का प्रयोग

चुनाव प्रचार में भाजपा नहीं कर सकेगी 'पप्पू' शब्द का प्रयोग

नई दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए बनाए जाने वाले इलेक्ट्रॉनिक विज्ञापनों में ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी है। भाजपा अब तक पप्पू शब्द का प्रयोग कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का उपहास उड़ाने के लिए करती आई है।

मिली जानकारी के अनुसार, गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के अधीन बनी मीडिया कमिटी ने पार्टी द्वारा पिछले महीने पेश किए गए विज्ञापनों की स्क्रिप्ट में इस्तेमाल कुछ शब्दों पर आपत्ति जताई थी। एक वरिष्ठ नेता ने बताया, “चुनाव प्रचार से जुड़ी कोई भी सामग्री तैयार करने से पहले हमें मंजूरी लेने के लिए उसे आयोग के सीईओ के अधीन आने वाली मीडिया कमिटी को भेजना पड़ता है। कमिटी ने विज्ञापन की स्क्रिप्ट में पप्पू शब्द को अपमानजनक करार देते हुए आपत्ति जताई थी। जिसे हटाने या उसकी जगह कोई दूसरा शब्द इस्तेमाल करने का निर्देश दिया गया है।”

{ यह भी पढ़ें:- हिमाचल और गुजरात चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेंगे राहुल गांधी }

गुजरात भाजपा के नेता ने इस विषय पर दिए स्पष्टीकरण में कहा ,”विज्ञापन की स्क्रिप्ट में पप्पू शब्द का इस्तेमाल सीधे-सीधे किसी के लिए नहीं किया गया था, इसलिए हमने आयोग से इस पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया। लेकिन आयोग ने हमारा अनुरोध ठुकरा दिया। अब हम इस शब्द की जगह कोई दूसरा शब्द इस्तेमाल करेंगे।”

बताया जा रहा है कि पार्टी निवार्चन आयोग की आपत्ति के बाद अपनी स्क्रिप्ट में परिवर्तन करेगी। संशोधित स्क्रिप्ट को आयोग की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। इसके बाद ही विज्ञापनों का निर्माण किया जाएगा।

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी 11 दिसंबर को बनाए जा सकते हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष }

Loading...