पाकिस्तान में टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात किए बंदूकधारी

pak
पाकिस्तान में टमाटर की सुरक्षा के लिए तैनात किए बंदूकधारी

नई दिल्ली। पाकिस्तान में टमाटर की कीमत 320 रुपए (पाकिस्तानी मुद्रा) प्रति किलो तक पहुंच गई है। इससे भी बड़ी दिक्कत है कि टमाटरों को लूटने की घटनाएं होने लगी हैं। यही वजह है कि किसानों ने बेशकीमती हो चुकी फसल को लूट से बचाने के लिए खेतों पर हथियारबंद सुरक्षाकर्मी तैनात कर दिए हैं।  

Gunmen Deployed For The Protection Of Tomatoes In Pakistan :

शुक्रवार को कराची की थोक मंडी में टमाटर 320 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव पर बिके। सिंध प्रांत में टमाटर की फसल सर्वाधिक होती है। लेकिन, खेतों पर लुटेरों की नजर है। टमाटर लूट की कुछ घटनाएं हुईं तो किसान चौकन्ने हो गए। ‘जियो न्यूज’ के मुताबिक, टमाटर सुरक्षा के लिए किसानों ने अपने खर्च पर हथियारबंद गार्ड तैनात कर दिए हैं। बादिन जिले के किसान लूट की घटनाओं के प्रति ज्यादा आशंकित हैं। प्रधानमंत्री इमरान खान के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज ने दावा किया था कि कराची में टमाटर 17 रुपए किलो हैं। इसके बाद सोशल मीडिया पर उनका मजाक उड़ा था।

 

ईरान से आयात

टमाटर ही क्यों लौकी और दूसरी सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं। लौकी यहां 170 रुपए किलोग्राम तक बिक रही है। प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज के बयान ने अवाम के जख्मों पर नमक छिड़क दिया। उन्होंने कहा- कराची में टमाटर का भाव 17 रुपए प्रति किलो है। मीडिया ने उनसे पूछा कि आप जगह या मंडी का नाम बताएं, जहां इस सब्जी का यह दाम है। इस पर हफीज गोलमोल जवाब देने लगे। बहरहाल, लोगों की नाराजगी से घबराई सरकार ने ईरान से टमाटर आयात करने का आदेश दिया। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आयात होने बावजूद टमाटर 150 रुपए किलो से कम नहीं होगा।

नई दिल्ली। पाकिस्तान में टमाटर की कीमत 320 रुपए (पाकिस्तानी मुद्रा) प्रति किलो तक पहुंच गई है। इससे भी बड़ी दिक्कत है कि टमाटरों को लूटने की घटनाएं होने लगी हैं। यही वजह है कि किसानों ने बेशकीमती हो चुकी फसल को लूट से बचाने के लिए खेतों पर हथियारबंद सुरक्षाकर्मी तैनात कर दिए हैं।   शुक्रवार को कराची की थोक मंडी में टमाटर 320 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव पर बिके। सिंध प्रांत में टमाटर की फसल सर्वाधिक होती है। लेकिन, खेतों पर लुटेरों की नजर है। टमाटर लूट की कुछ घटनाएं हुईं तो किसान चौकन्ने हो गए। ‘जियो न्यूज’ के मुताबिक, टमाटर सुरक्षा के लिए किसानों ने अपने खर्च पर हथियारबंद गार्ड तैनात कर दिए हैं। बादिन जिले के किसान लूट की घटनाओं के प्रति ज्यादा आशंकित हैं। प्रधानमंत्री इमरान खान के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज ने दावा किया था कि कराची में टमाटर 17 रुपए किलो हैं। इसके बाद सोशल मीडिया पर उनका मजाक उड़ा था।   ईरान से आयात टमाटर ही क्यों लौकी और दूसरी सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं। लौकी यहां 170 रुपए किलोग्राम तक बिक रही है। प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार डॉक्टर अब्दुल हफीज के बयान ने अवाम के जख्मों पर नमक छिड़क दिया। उन्होंने कहा- कराची में टमाटर का भाव 17 रुपए प्रति किलो है। मीडिया ने उनसे पूछा कि आप जगह या मंडी का नाम बताएं, जहां इस सब्जी का यह दाम है। इस पर हफीज गोलमोल जवाब देने लगे। बहरहाल, लोगों की नाराजगी से घबराई सरकार ने ईरान से टमाटर आयात करने का आदेश दिया। एक रिपोर्ट के मुताबिक, आयात होने बावजूद टमाटर 150 रुपए किलो से कम नहीं होगा।